सेक्टर-63 की फैक्ट्री में चोरी करने वाले 07 गिरफ्तार

पकड़े गए बदमाशों के पास से 1.15 करोड़ का सामान और वाहन कैंटर बरामद

नोएडा। थाना फेस-3 एवं स्टार वन टीम ने सेक्टर 65 के ट्रांसपोर्ट नगर से चोरी करने वाले 07 अभियुक्तों को गिरफ्तार किया है। पकड़े गए बदमाशों के कब्जे से एक करोड़ 15 लाख रुपये के चोरी का माल बरामद किया गया है।

सेक्टर-14ए स्थित कंट्रोल रूम में गुरुवार को आयोजित प्रेस कान्फ्रेंस में वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक वैभव कृष्ण ने बताया कि बीती 03 मार्च को डी-50 सेक्टर-63 स्थित कम्पनी के गार्ड ने अपने साथियो के साथ मिलकर भारी मात्रा मे मेटिरियल चोरी की घटना को अंजाम दिया था। घटना की रिपोर्ट फैक्ट्री मालिक दीपक बंसल ने दर्ज कराई थी। उन्होंने बताया कि कोतवाली फेज-3 की पुलिस और स्टार वन टीम ने सूचना के आधार पर चोरी करने वाले 07 आरोपियों को गिरफ्तार किया।

पूछताछ में पता चला कि अभियुक्त कुलदीप उर्फ कमलू गैंग का सरगना है। उसने अपने साथी राजू को कम्पनी की रेकी करने के लिए वहां गार्ड की नौकरी दिलाई। राजू ने रेकी कर कुलदीप को पूरी स्थिति से अवगत कराया। उसके बाद कुलदीप ने अपने अन्य साथियों के साथ मिलकर तीन मार्च की रात कम्पनी में रखी करोड़ों रुपये की पीतल की बनी व अधबनी टोटी के मेटिरयिल को कैंटर में लादकर ले गए। उन्होंने बताया कि चोरी किए गए माल को उसी कैंटर में लादकर उसे बेचने के लिए दिल्ली जा रहे थे। लेकिन, मुखबिर की सूचना पर उन्हें धर-दबोचा गया। पकड़े गए बदमाशों के पास से चोरी किए गए लगभग 1.15 करोड़ का माल बरामद किया गया है। पकड़े गए बदमाशों में करावल नगर दिल्ली निवासी कुलदीप कुमार तोमर उर्फ कमलू पुत्र स्व. भिकारी लाल, दीपक तोमर उर्फ देबू उर्फ दीपू पुत्र स्व. विजेन्द्र, राकेश कुमार उर्फ रिंकू पुत्र जानकारी प्रसाद, गौतमबुद्ध नगर के दादरी निवासी इरफान खान उर्फ राजू पुत्र शमीम, बुलंदशहर के गुलावठी निवासी बाबू पुत्र इसलाम, करावल नगर दिल्ली निवासी नीरज पुत्र स्व. किशन कुमार, बिहार के कटिहार निवासी पंकज पुत्र अशोक कुमार शामिल हैं।

एसएसपी ने बताया कि ये लोग शातिर किस्म के अपराधी हैं। दिल्ली एनसीआर के विभिन्न शहरों में पहले अपने लोगों को कहीं गार्ड की नौकरी दिलाते हैं और फिर उससे रेकी कराने के बाद चोरी की वारदातों को अंजाम देते हैं। इनके आपराधिक इतिहास के बारे में आसपास के जिलों से भी जानकारी जुटाई जा रही है।

Leave A Reply