49 साल बाद भारत पुरुष हॉकी के सेमीफाइनल में, पदक से एक कदम दूर

भारत के लिए इस मुकाबले में दिलप्रीत सिंह, गुरजंत सिंह और हार्दिक सिंह ने 1-1 गोल किया

टोक्यो ओलंपिक (Tokyo Olympics) में आठ बार ओलंपिक गोल्ड मेडलिस्ट भारतीय पुरुष हॉकी टीम ने के सेमीफाइनल में जगह बना ली. रविवार को क्वार्टर फाइनल में मनप्रीत सिंह की कप्तानी वाली टीम (Indian Men’s Hockey Team) ने ब्रिटेन को 3-1 से मात दी. 49 साल बाद है यह पहला मौका है जब भारत ने पुरुष हॉकी में ओलंपिक खेलों के सेमीफाइनल में जगह बनाई है.  भारत के लिए इस मुकाबले में दिलप्रीत सिंह, गुरजंत सिंह और हार्दिक सिंह ने 1-1 गोल किया जबकि वार्ड ने ब्रिटेन का एकमात्र गोल तीसरे क्वार्टर की समाप्ति से कुछ क्षण पहले पेनल्टी कॉर्नर पर किया.

भारत ने मॉस्को ओलंपिक 1980 में ओलंपिक में आखिरी पदक स्वर्ण पदक के रूप में जीता था लेकिन तब छह टीमों ने केवल भाग लिया था और राउंड रोबिन आधार पर शीर्ष पर रहने वाली दो टीमों के बीच स्वर्ण पदक का मुकाबला हुआ था. भारत इस तरह से 1972 में पहली बार म्यूनिख ओलंपिक के बाद सेमीफाइनल में पहुंचा है. भारत और ब्रिटेन का ओलंपिक में 9वीं बार सामना हुआ और भारत ने अब जीत-हार का अपना रिकॉर्ड 5-4 कर लिया है.

Comments are closed.