सुप्रीम कोर्ट के आदेश पर प्राधिकरण ने 26 गांवों के किसानों को दिए 104 करोड़ रुपए

-अभी किसानों को अतिरिक्त मुआवजे के रूप में दिए जाने हैं 400 करोड़ रुपए

नोएडा:किसानों को 64.7 प्रतिशत का अतिरिक्त मुआवजा देने के लिए यमुना प्राधिकरण जुटा है। पिछले तीन महीने में 26 गांवों के किसानों को इस मद में करीब 104 करोड़ रुपए दिए गए हैं। अभी किसानों को करीब 400 करोड़ रुपए अतिरिक्त मुआवजे के रूप में दिए जाने हैं।

29 अगस्त 2014 को प्रदेश सरकार ने शासनादेश जारी किया था कि किसानों को 64.7 प्रतिशत का अतिरिक्त मुआवजा दिया जाए। प्राधिकरण ने इसका आकलन कराया तो सामने आया कि किसानों को इस मद में करीब 1800 करोड़ रुपए दिए जाने हैं। तब से लेकर आज तक यमुना प्राधिकरण ने किसानों को करीब 1400 करोड़ रुपए का भुगतान कर चुका है। अभी 400 करोड़ रुपए और दिए जाने हैं। बीच में 64.7 प्रतिशत का अतिरिक्त मुआवजा देना बंद कर दिया गया था। ऐसा हाईकोर्ट के फैसले के चलते किया गया। इसी साल जुलाई में सुप्रीम कोर्ट ने अतिरिक्त मुआवजे पर अपनी मुहर लगा दी। इसके बाद प्राधिकरण ने अतिरिक्त मुआवजा बांटना शुरू कर दिया।
इन गांवों के लोगों को मिलेगा अतिरिक्त मुआवजा

अतिरिक्त मुआवजा की लिस्ट में धनौरी, मूंज खेड़ा, चांदपुर, तिरथली, बीरमपुर, मुरादगढ़ी, रबूपुरा, उस्मानपुर, निलौनी शाहपुर, रुस्तमपुर, सलारपुर, मोहम्मदपुर गुर्जर, रौनीजा, चक बीरमपुर, मिर्जापुर, आच्छेपुर, चक जलालाबाद, पचोकरा, कुरैब, अच्छेजा बुजुर्ग, रामपुर बांगर, खेरली भाव, करौली बांगर, उटरावली, मेहंदीपुर बांगर और दनकौर शामिल हैं। यमुना प्राधिकरण के सीईओ डॉ. अरुण वीर सिंह ने बताया कि किसानों को अतिरिक्त मुआवजा प्राथमिकता के आधार पर बांटा जा रहा है। नियमों के मुताबिक सभी किसानों को जल्द से जल्द मुआवजा देने की तैयारी है।

Comments are closed.