छठ पूजा को लेकर बीजेपी के प्रदर्शन के बाद आप नेता गोपाल राय का बयान बोले बीजेपी को पूर्वांचलियों की चिंता नहीं

 

रवि डालमिया

छठ पूजा को लेकर बीजेपी के प्रदर्शन के बाद आप नेता गोपाल राय बोले बीजेपी कर रही राजनीतिन उन्होंने कहा हमारी सरकार जब प्रदेश में बनी उससे पहले भारतीय जनता पार्टी की सरकार थी तो छट पूजा होती रही थी भाजपा पूजा कराती रही थी उसके बाद कांग्रेस जिसने 68 जगह पर पूजा करानी शुरू कराई। आम आदमी पार्टी की सरकार ने 1068 जगह पर काफी धूमधाम से पूजा कराई। लेकिन कोरोना कि जो परिस्थिति बनी थी उसको देखते हुए केंद्र सरकार की गाइडलाइंस आई थी कि छठ पूजा नहीं होगी स्वास्थ्य विभाग एक्सपर्ट की राय थी कि सबसे ज्यादा कोरोना वायरस पानी से फैलता है और छठ पूजा पानी में खड़े होकर की जाती है इसीलिए घर में रहकर के लोग पूजा करें। छठ पूजा को लेकर बीजेपी के प्रदर्शन के बाद आप नेता गोपाल राय बोले बीजेपी कर रही राजनीतिन

छठ पूजा भी प्रोटोकॉल को ध्यान में रखकर होनी चाहिए

इस साल उसी को देखते हुए मैंने यह फैसला लिया कि छठ पूजा को भी प्रोटोकॉल को ध्यान में रखकर होनी चाहिए। लेकिन बीजेपी जिस तरीके से छठ पूजा को लेकर राजनीति कर रही है वह इस बात को दिखा रहा है कि कहीं ना कहीं इसमें पूर्वांचलियो के सम्मान की चिंता ना बीजेपी को थी ना है वह इसलिए कर रही है क्योंकि डूबते को तिनके का सहारा वाली बात है।

 

भाजपा अपनी राजनीति को चमकाना चाहते हैं

नगर निगम चुनाव में जिस तरीके से भाजपा ने एक भी सीट नहीं जीती और पूरी दिल्ली कूड़ा कूड़ा हुई है तो इसी बहाने भाजपा अपनी राजनीति को चमकाना चाहते हैं। आम आदमी पार्टी छठ पूजा भी धूमधाम से करती है पूर्वांचल के त्यौहार को भी बनाती है लेकिन उनकी जीवन को भी बचाना आम आदमी पार्टी का काम है।

कल डिप्टी सीएम ने स्वास्थ्य मंत्री को खत लिखा है छठ पूजा को लेकर गाइडलाइंस जारी की जाए जिससे दिल्ली में भी छठ पूजा हो और जो केंद्र सरकार की एडवाइज आएगी उसके आधार पर होगा। मनोज तिवारी को जिस तरीके से बीजेपी ने विधानसभा चुनाव के बाद किनारे किया इसके बाद से वह उछल कूद कर देना लेकिन यह सही वक्त नहीं है। ,

Comments are closed.