अगर बचना है चंद्र ग्रहण के बुरे प्रभाव से तो करें ये काम।

अगर बचना है चंद्र ग्रहण के बुरे प्रभाव से तो करें ये काम।

Manisha Jha

Lunar Eclipse 2022: 25 अक्टूबर 2022 को सूर्य ग्रहण लगा था और अब इसके 15 दिन बाद कार्तिक पूर्णिमा पर 08 नवंबर 2022 को चंद्र ग्रहण लगने वाला है। यह साल का दूसरा और अंतिम चंद्र ग्रहण होगा जिसे भारत में भी देखा जा सकेगा। इसलिए इसका सूतक काल भी मान्य होगा। ग्रहण लगने की घटना का धार्मिक, वैज्ञानिक और ज्योतिषीय दृष्टिकोण से अलग-अलग महत्व और कारण होते हैं। वैज्ञानिक दृष्टिकोण में जहां इसे केवल भौगोलिक घटना मानी जाती है तो वहीं ज्योतिष शास्त्र और धार्मिक दृष्टिकोण से ग्रहण को अशुभ माना जाता है। धार्मिक मान्यता के अनुसार राहु और केतु चंद्रमा को निकलने की कोशिश कर रहे थे जिस कारण पूर्णिमा के दिन चंद्र ग्रहण लगता है। वहीं ज्योतिष दृष्टिकोण के अनुसार ग्रहण का प्रभाव सभी राशियों पर पड़ता है। इसलिए चंद्र ग्रहण के दौरान कई कार्य जैसे पूजा-पाठ, यात्रा, शुभ काम और खानपान आदि जैसे कार्य वर्जित माने जाते हैं।

चंद्र ग्रहण लगने से 9 घंटे पूर्व सूतक काल लग जाता है। इसलिए ग्रहण से पहले, ग्रहण के दौरान और ग्रहण खत्म होने के बाद भी कई नियमों का पालन करना पड़ता है। ग्रहण के दुष्प्रभाव से बचने के लिए चंद्र ग्रहण समाप्त होते ही कुछ कार्यों को करने की जरूरत होती है। इससे ग्रहण के बुरे प्रभावों को से बचा जा सकता है। जानते हैं चंद्र ग्रहण समाप्त होते ही सबसे पहले किन कार्यों को करना चाहिए।

चंद्र ग्रहण समाप्त होते ही करें ये कार्य
1.चंद्र ग्रहण समाप्त होते ही सबसे पहले पानी में गंगाजल और तुलसी मिलाकर स्नान करना चाहिए।
2.ग्रहण समाप्त होने पर घर की साफ-सफाई करनी चाहिए। ग्रहण खत्म होती ही घर की सफाई करने से नकारात्मकता का प्रभाव घर पर नहीं पड़ता। साफ-सफाई के बाद पूरे घर गंगाजल का छिड़काव भी करें।
3.मंदिर में रखी देवी-दवताओं की मूर्तियों को भी गंगाजल से साफ करें।
4.ग्रहण खत्म होने के बाद दान करने का महत्व है। ग्रहण समाप्त होने के बाद गेहूं, तिल, गुड़, अन्न या पैसा आदि का दान उपयुक्त होता है।
5.ग्रहण समाप्त होने के बाद स्नान, दान और साफ-सफाई के बाद भगवान की पूजा जरूर करें। इससे शुभ फलों की प्राप्ति होती है।

चंद्र ग्रहण का समय
चंद्र ग्रहण कार्तिक पूर्णिमा के दिन मंगलवार 08 नवंबर 2022 को दोपहर 02:41 पर लगेगा और शाम 06:20 पर ग्रहण समाप्त हो जाएगा। चंद ग्रहण का सूतक सुबह 08:20 पर ही शुरू हो जाएगा।

Comments are closed.