आगरा: पद पाने के लिए साथी के अपहरण का प्रयास,भाजयुमो आगरा महानगर उपाध्यक्ष के अपहरण करने का प्रयास

 

रिपोर्ट-आकाश जैन

आगरा। राजनीति में सब कुछ सम्भव है कोई अपना पराया नहीं होता। कल तक संगठन में काम करने वाले आज नए पद के लिए अपने साथी के अपहरण करने तक पर उतारू हो गया। मामला शुक्रवार शाम का है भाजयुमो महानगर उपाध्यक्ष राहुल आर्य अपने घर पर जा रहे थे तो पुलिस लाइन रोड पर होरिजन कोचिंग के पास कार सवार हथियार से लैस युवा मोर्चा महामंत्री शैलू पण्डित, सूरज पाण्डेय, कृष्णा और 3-4 दुपहिया पर करीब 10-12 लोगों ने रोककर गाड़ी की चाबी निकालकर उठाकर गाड़ी में डालने का प्रयास किया जिसमें राहुल आर्य ने जैसे तैसे बचकर नजदीक रहने वाले विधायक योगेंद्र उपाध्याय के घर पहुंचकर वारदात की जानकारी दी। उसके पश्चात पुलिस ने छानबीन ओर जांच कर अपहरण ओर अन्य धाराओं में मुकदमा दर्ज किया। जिसके बाद से सभी आरोपी फरार हैं। पुलिस सूत्रों के अनुसार पुलिस अपने स्तर से आवश्यक कार्यवाही जल्द करेगी। चूंकि आरोपी पक्ष भी अपने बचाव के लिए अब पीड़ित पक्ष पर राजीनामे का दवाब बना रहा है।

भाजपा अपने संगठन के इस प्रव्रत्ति के लोगों पर क्या कार्यवाही करती है

लेकिन देखना ये होगा कि अब तक और पार्टियों पर गुंडा और बदमाशों ओर संरक्षण देने का आरोप लगाने वाली भाजपा अपने संगठन के इस प्रव्रत्ति के लोगों पर क्या कार्यवाही करती है। चूंकि राहुल आर्य के साथ पहले भी इस तरह की वारदात इन लोगों द्वारा उनके घर पर पहुंचकर की गई थी जिसमे संगठन के हस्तछेप के बाद राजीनामा हो गया था लेकिन अब दूसरी बार राहुल आर्य के साथ जब यह वारदात हुई है तो संगठन दोषियों के खिलाफ क्या कार्यवाही करता है।

Comments are closed.