आर्यन खान(Aryan khan case) को गिरफ्तार करने वाले पुलिस ऑफिसर समीर वानखेड़े की बीजेपी से मिले होने के शक पर क्या हो रही है जासूसी?

समीर वानखेडे पर कौन रख रहा है नजर?

मेगास्टार शाहरुख खान के बेटे आर्यन खान को पुरुष सिर्फ से ड्राफ्ट मामले में गिरफ्तार किए हुए आज 10 दिन से ऊपर हो गए हैं परंतु अभी तक उसे जमानत नहीं मिल पाई है अंदाजा है कि 13 अक्टूबर को जमानत की सुनवाई कोर्ट में होगी.

आइए अब बात करते हैं समीर वानखेडे की जी हां दोस्तों समीर वानखेड़े वही पुलिस अधिकारी हैं जिन्होंने शिकायत मिलने पर क्रूजशिप से आर्यन खान सहित आठ लोगों को गिरफ्तार किया था.

बात करे समीर वानखेड़े की तो उन्होंने एक बेहद संगीन आरोप लगाया है जिसमें उन्होंने कहा है कि उनकी जासूसी करवाई जा रही है इस जासूसी में पुलिस के एक बड़े अधिकारी का हाथ होने का अंदेशा लगाया गया.

नवाब मलिक के आरोपों के बाद शुरू हुई है यह जासूसी

एनसीपी नेता नवाब मलिक ने आरोप लगाया था कि रूद्राक्ष पार्टी पर एमसीडी की छापेमारी फर्जी थी यह सब दरअसल बीजेपी जीत चाल है शाहरुख खान को मोहरा बनाकर महाराष्ट्र के सियासत में दाखिल होने का.

नवाब मलिक ने कुछ ऐसी तस्वीरें और वीडियो दिखाए थे जिसमें समीर वानखेडे बीजेपी नेता के साथ नजर आ रहे हैं.

कौन है यह डिटेक्टिव और किसने जासूसी करने के लिए समीर वानखेड़े के पीछे छोड़ा है

समीर वानखेडे की मानें तो उनकी मां का अंतिम संस्कार किस स्थल पर हुआ था 2015 में वे वहां हमेशा जाया करते हैं इसी दरमियान समीर वानखेडे ने पाया कि सोमवार 11 अक्टूबर को दो संदिग्ध लोग उनका पीछा कर रहे थे और उन पर नजर रखे हुए थे इससे जुड़े कुछ देसी टीवी फोटोस भी उन्होंने पुलिस को सौंपा है और इस बात का खुलासा करने को कहा है कि आखिर कौन मेरी जासूसी करवा रहा है.

जाहिर सी बात है अगर समीर वानखेड़े पर बीजेपी से मिले होने का इतना बड़ा आरोप लगा है तो इस बात की तह तक जाना होगा ताकि सच्चाई का पता चल सके कि यह कहीं बीजेपी का कोई हिडन एजेंडा तो नहीं महाराष्ट्र की सियासत में कब्जा करने का.

Comments are closed.