आर्यन खान ड्रग्स केस: आज कस्टडी खत्म, अब जमानत पर होगी सुनवाई

- एनसीबी ने आर्यन की कोडवर्ड चैटिंग को डीकोड करने के लिए कस्टडी को बताया था जरुरी

नई दिल्ली। बॉलीवुड अभिनेता शाहरुख खान के बेटे आर्यन खान की कस्टडी आज यानी 7 अक्टूबर को समाप्त हो रही है। लिहाजा, नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो (एनसीबी) आर्यन को आज मुंबई की एक अदालत में पेश करेगा, जहां आर्यन के वकील एक बार फिर से जमानत के लिए याचिका दायर करेंगे। गौरतलब है कि पानी के जहाज पर ड्रग्स पार्टी करने के मामले में शाहरुख खान के बेटे आर्यन खान एनसीबी की कस्टडी में है। मुंबई की एक कोर्ट ने सोमवार को आर्यन सहित तीन आरोपियों की रिमांड सात अक्टूबर तक बढ़ा दी थी।

चार अक्टूबर को एनसीबी ने कोर्ट में बताया था कि आर्यन कोडवर्ड में चैटिंग करता था और इसे डीकोड करने के लिए ये कस्टडी जरूरी है। कई चैट्स ये बताते हैं कि उसका डीलर्स के साथ कनेक्शन है। चैट से साफ है कि ये एक नेक्सस है और इंटरनेशनल ट्रांजैक्शन भी हुए हैं। आरोपियों ने ड्रग्स पैडलर से डील करने के लिए कोडवर्ड का इस्तेमाल किया है और ऐसे में आरोपियों को रिमांड में आमने- सामने बैठाकर पूछताछ करने की जरूरत है।

दूसरी तरफ आर्यन के वकील मानशिंदे ने कहा कि, ‘आर्यन को खास मेहमान के तौर पर बुलाया गया था और वो एक दोस्त के साथ वहां गया था। उसे क्रूज पर जाने का एक भी पैसा नहीं दिया गया और ना ही वो किसी ऑर्गनाइजर को जानता है’। उन्होंने आर्यन खान के पैडलर को जानने की खबर का भी खंडन किया है। साथ ही एनसीबी पर आरोप लगाया है वो सिर्फ व्हाट्सएप चैट पर केस बना रहे हैं जबकि उन्हें मेरे क्लाइंट से कुछ भी बरामद नहीं हुआ है।

ड्रग केस में आर्यन खान का नाम पहली बार तब सामने आया जब 2 अक्तूबर को गोवा के लिए जाने वाले एक क्रूज जहाज पर छापेमारी के दौरान आर्यन समेत आठ लोगों को हिरासत में लिया गया। इस दौरान सभी को 3 अक्टूबर को 22 घंटे से ज्यादा समय तक हिरासत में रखा गया और पूछताछ की गई। इसके एक दिन बाद ही आर्यन और दो अन्य को औपचारिक रूप से गिरफ्तार कर लिया गया।

रिपोर्ट्स के मुताबिक आर्यन जांच अधिकारियों को सहयोग कर रहे हैं और उन्होंने चार पेज का बयान दिया है। आर्यन 7 अक्टूबर तक एनसीबी की हिरासत में रहेंगे, जबकि एनसीबी 11 अक्टूबर तक हिरासत बढ़ाने की कोशिश में जुटी हुई है। इस मामले में छानबीन करते हुए एनसीबी ने मंगलवार रात मुंबई के पवई इलाके से एक और व्यक्ति को हिरासत में लिया और उसके कब्जे से ड्रग्स जब्त की।

इसके अलावा एनसीबी कल रात से बांद्रा, जुहू और गोरेगांव में छापेमारी कर रही है और अब तक इस मामले में कुल 16 गिरफ्तारियां हो चुकी हैं। NCB के मुताबिक मामले में तीन व्यक्तियों पर नारकोटिक ड्रग्स एंड साइकोट्रोपिक सब्सटेंस एक्ट (NDPS एक्ट) की धारा 8C, 20B, 27 (किसी भी मादक दवा या मनोदैहिक पदार्थ के सेवन के लिए दंड) और 35 (दोषपूर्ण मानसिक स्थिति का अनुमान) के तहत मामला दर्ज किया गया है।

Comments are closed.