लखीमपुर खीरी हिंसा को लेकर भारतीय किसान यूनियन ने जिला मजिस्ट्रेट कार्यलय पर प्रदर्शन कर दिया ज्ञापन

 

रिपोर्ट-नितिन चौधरी

लखीमपुर खीरी मैं हुई हिंसा को लेकर सियासत तेज हो चली है सभी विपक्षी दलों के नेता जहां एक तरफ लखीमपुर खीरी की ओर कूच कर रहे हैं, तो वहीं दूसरी ओर हिंसा को लेकर कई पार्टियों ने विरोध प्रदर्शन किया है, वही आज भारतीय किसान यूनियन सहित कई संगठनों ने जिला मजिस्ट्रेट कार्यालय पर जमकर विरोध प्रदर्शन किया। वही हिंसा को लेकर राष्ट्रपति के नाम ज्ञापन सौंपा और आरोपियों को सजा देने की मांग की है।

लखीमपुर खीरी में हुई हिंसा को लेकर सैकड़ों की संख्या में पहुँचे किसान

विरोध प्रदर्शन किए तस्वीरें ग्रेटर नोएडा के सूरजपुर स्थित जिला कलेक्ट्रेट कार्यालय की है दरअसल आज भारतीय किसान यूनियन सहित कई संगठनों के कार्यकर्ताओं ने लखीमपुर खीरी में हुई हिंसा को लेकर सैकड़ों की संख्या में पहुँचे किसान टैक्टर को लेकर जिला कलेक्ट्रेट कार्यालय पर पहुँचे व विरोध प्रदर्शन किया है,और राष्ट्रपति के नाम एडीएम को ज्ञापन सौंपा है,वही भारतीय किसान यूनियन के प्रदेश प्रवक्ता पवन खटाना ने मीडिया से बात करते हुए कहा कि कल लखीमपुर खीरी में बर्बरता के साथ केंद्रीय मंत्री के बेटे ने किसानों के ऊपर गाड़ी चढ़ा दी, जिसमें 8 किसानों के मौत हो गई है इसी बर्बरता के खिलाफ आज भारतीय किसान यूनियन के सैकड़ों किसानों ने जिला कलेक्ट्रेट कार्यालय पर विरोध प्रदर्शन कर रहा हैं, आज हम लोगों ने मांग की है की आरोपी केंद्रीय मंत्री के बेटे को जल्द से जल्द गिरफ्तार कर सजा दिया जाए और मृतकों के परिवार को एक एक करोड़ का मुआवजा दिया जाय , इसको लेकर आज राष्ट्रपति के नाम जिलाधिकारी को ज्ञापन सौंपा है।

Comments are closed.