भारतीय महिला हॉकी टीम पहली बार ओलंपिक के सेमीफाइनल में, ऑस्ट्रेलिया को हराया

क्वार्टर फाइनल में भारत ने ऑस्ट्रेलिया को 1-0 से हराया

टोक्यो ओलंपिक (Tokyo Olympics) में भारतीय महिला हॉकी टीम ने इतिहास रच दिया है. टीम ने पहली बार ओलंपिक के सेमीफाइनल में जगह बना ली है. क्वार्टर फाइनल में भारत ने ऑस्ट्रेलिया को 1-0 से हराया. भारतीय महिला टीम ओलंपिक में सिर्फ तीसरी बार उतर रही है. इससे पहले रियाे ओलंपिक 2016 में टीम 12 वें नंबर पर रही थी. इसके अलावा टीम 1980 में चौथे नंबर पर रही थी. हालांकि उस समय सेमीफाइनल के मुकाबले नहीं थे. टॉप-3 टीमें पूल मैचों के प्रदर्शन के आधार पर तय हुई थीं. भारतीय पुरुष टीम ने भी इससे पहले सेमीफाइनल में पहुंचकर मेडल की उम्मीद बरकरार रखी है.

भारतीय महिला टीम ने मैच में अच्छी शुरुआत की. हालांकि भारत और ऑस्ट्रेलिया दोनों ही टीमें पहले क्वार्टर में गोल नहीं कर सकीं. गुरजीत कौर ने 22वें मिनट में पेनल्टी कॉर्नर पर गोल करके भारतीय टीम को 1-0 की बढ़त दिलाई. हाफ टाइम तक स्कोर यही रहा. तीसरे क्वार्टर में भी कोई गोल नहीं हुआ और भारतीय टीम तीसरे क्वार्टर 1-0 से आगे रही. ऑस्ट्रेलिया की टीम ने चौथे क्वार्टर में जोरदार हमले किए और लगातार दो कॉर्नर भी हासिल किए. मैच में उसे कुल 9 पेनल्टी कॉर्नर मिले, लेकिन इस पर वह गोल नहीं कर सकी. भारतीय टीम को सिर्फ एक कॉर्नर मिला और इस पर गोल करके उसने जीत पक्की की.

4 अगस्त को सेमीफाइनल में भरतीय टीम अर्जेंटीना से भिड़ेगी.

Comments are closed.