बिजली चोरों से जुर्माना वसूलने में विद्युत निगम अधिकारी फिसड्डी

अभी तक करीब 250 लाख रुपए का राजस्व ही बिजली चोरों से वसूल पाया है

नोएडा: विद्युत निगम बिजली चोरी करने वाले लोगों के खिलाफ कार्रवाई करके मालामाल हो रहा है। पिछले एक वर्ष में साढ़े चार हजार से अधिक बिजली चोरी के प्रकरण पकड़े गए हैं। इन पर 1700 लाख रुपए का जुर्माना लगाया गया है। हालांकि, विद्युत निगम अभी तक करीब 250 लाख रुपए का राजस्व ही बिजली चोरों से वसूल पाया है, शेष राजस्व वसूलने के लिए जिला प्रशासन की मदद ली जा रही है।
विद्युत निगम ने बीते एक वर्ष में जिले में 4500 से अधिक बिजली चोरी के मामले पकड़े हैं। औसतन 12 लोग रोजाना बिजली चोरी में संलिप्त मिल रहे हैं। इनके खिलाफ विद्युत निगम की दो-दो विजिलेंस टीमों के अलावा निगम के अधिकारी और कर्मचारी भी कार्रवाई कर रहे हैं। इसके बाद भी बिजली चोरी रुक नहीं पा रही है। पिछले आठ-दस महीनों में बिजली चोरी कराकर उपभोक्ताओं को लाभ देने के आरोप में कई अधिकारियों और कर्मचारियों पर गाज भी गिर चुकी है। इसके बाद भी कुछ अधिकारी और कर्मचारी ऐसे मामलों में संलिप्त हैं। अब विद्युत निगम ने बड़े स्तर पर बिजली चोरों के खिलाफ कार्रवाई करने की योजना बनाई है।
विद्युत निगम मुख्य अभियंता, वीएन सिंह ने बताया कि बिजली चोरी करने वाले लोगों पर लगातार कार्रवाई की जा रही है। इसके लिए निगरानी भी रखी जा रही है। एक बार फिर बड़े स्तर पर अभियान चलाया जाएगा। बकायेदार और बिजली चोरों से बिल एवं जुर्माना राशि वसूलने की कार्रवाई भी की जा रही है।

Comments are closed.