चन्नी के बयान पर कैप्टन का वार, बोले आपके घर से रकम निकली है, इसमें किसका कसूर है?

कैप्टन ने ट्वीट कर सीएम को घेरा, चन्नी ने रेड के लिए कैप्टन को बताया था जिम्मेदार

चंडीगढ़। सीएम चन्नी के रिश्तेदारों के यहां अवैध माइनिंग मामले में ईडी की रेड को लेकर आरोप प्रत्यरोप तेज हो गए हैं। पहले आम आदमी पार्टी सीएम पर सवाल उठा रही थी। अब आरोपों प्रत्यारोपों में पूर्व सीएम कैप्टन अमरिंदर सिंह भी शामिल हो गए हैं। उन्होंने ट्वीट कर बयान दिया, आपके घर में ईडी की रेड लगी तो इसका आरोप दूसरों पर क्यों लगा रहे हो? ईडी मुझे रिपोर्ट नहीं करती।

चन्नी ने रेड के दौरान बोला था कि कैप्टन के इशारे पर उन्हें बदनाम करने के लिए ईडी की रेड लगी है। हालांकि, कैप्टन चन्नी को लेकर इस तरह की बयानबाजी से बचते थे। लेकिन पीएम के पंजाब दौरे के बाद जब सुरक्षा में चूक हुई तो कैप्टन ने सीएम चरणजीत चन्नी के खिलाफ मोर्चा खोल दिया था। अब रेत मामले में उन्होंने चन्नी को आड़े हाथ लिया है।

पंजाब में चल रही राजनीतिक गहमागहमी के बीच कैप्टन अभी तक चुप थे। लेकिन जब चन्नी ने कैप्टन को घेरने की कोशिश की तो उन्होंने पलटवार कर दिया। ध्यान रहे कैप्टन पर भी रेत खनन माफिया को संरक्षण देने के आरोप लगते रहे थे। खासतौर पर नवजोत सिंह सिद्धू इन आरोपों को लेकर खासे मुखर रहे हैं। अब जब चन्नी के रिश्तेदारों पर रेड लगी तो कैप्टन को भी बदला लेने का मौका मिल गया है। इधर इस पूरे मामले में कांग्रेस प्रदेशाध्यक्ष चुप है।

दो दिन से उन्होंने इस मामले में कुछ नहीं बोला। यहां तक की रणदीप सिंह सुरजेवाला के साथ पत्रकारों से बातचीत में भी सिद्धू इस पर चुप ही रहे थे। पंजाब की राजनीति पर नजर रखने वालो का मानना है कि सीएम के रिश्तेदारों पर रेड का मामला आने वाले दिनों में और ज्यादा तुल पकड़ सकता है। क्योंकि ईडी की रेड ने विपक्ष के हाथ में अचानक ही बड़ा मुद्दा दे दिया है। जिसे भुनाने में विपक्ष कोई कसर नहीं छोड़ने वाला है। इस बात का अंदाजा इस से भी लग सकता है कि न सिर्फ जुबान आरोप प्रत्यरोप चल रहे हैं, बल्कि सोशल मीडिया पर भी इसे लेकर लगातार सीएम को घेरने की कोशिश हो रही है।

Comments are closed.