नेता विपक्ष के सवालों से भड़के मुख्य अभियंता दिलीप रामनानी ने बैठक की मर्यादा को किया तारतार

नेता विपक्ष के सवालों से भड़के मुख्य अभियंता दिलीप रामनानी ने बैठक की मर्यादा को किया तारतार

रिपोर्ट: रवि डालमिया

पूर्वी दिल्ली नगर निगम के निर्माण समिति की बैठक में मुख्य अभियंता दिलीप रामनानी ने बैठक की मर्यादा को तारतार कर दिया , नेता विपक्ष के सवालों से भड़के दिलीप रामनानी ने अपने डेस्क पर कागज फेंक कर बैठक का बहिष्कार करते हुए बैठक से बाहर चले गए , इतना ही नहीं रामनानी जाते जाते बैठक में मौजूद सभी अधिकारियों को भी साथ ले गए।

इस दौरान बैठक में अजीबोगरीब स्थिति पैदा हो गई

इस दौरान बैठक में अजीबोगरीब स्थिति पैदा हो गई , अधिकारियों की हरकतों से नाराज निर्माण समिति के अध्यक्ष गोविंद अग्रवाल ने तुरंत अधिकारियों को चेतावनी दी . जिसके बाद दिलीप रामनानी सभी अधिकारियों को लेकर वापस बैठक में लौटे और बैठक की कार्रवाई आगे चली .बैठक शुरू होते ही सत्ता पक्ष और विपक्ष के पार्षदों ने अधिकारीयो के बर्ताव पर नाराजगी जाहिर की जिसके बाद गोविंद अग्रवाल के हस्तक्षेप पर दिलीप रामनानी ने माफी मांगी।

मनोज त्यागी ने शास्त्री पार्क इलाके के एक नाले की सफाई का मुद्दा उठाया

दरअसल निर्माण समिति की बैठक में नेता प्रतिपक्ष मनोज त्यागी ने शास्त्री पार्क इलाके के एक नाले की सफाई का मुद्दा उठाया , जिसकी क्षेत्राधिकार को लेकर मनोज त्यागी और दिलीप रामनानी के बीच बहस हो गई , इस दौरान दिलीप रामनानी भड़क उठे और डेस्क पर कागज़ फेकते हुए उठे और सभी अधिकारियों को बाहर निकलने के लिए कहा , मुख्य अभियंता के कहने पर सभी अधिकारी भी उनके साथ बाहर निकल गए।

चेयरमैन के डेस्क के सामने आकर विरोध जताया

बीच बैठक का बहिष्कार कर अधिकारियों का इस तरह बैठक से चले जाने से गोविंद अग्रवाल ने चेतावनी दी जिसके बाद मुख्य अभियंता सभी अधिकारियों को वापस लेकर लौटे .अधिकारियों की इस हरकत से नेता विपक्ष मनोज त्यागी , आप पार्षद विजय कुमार और साजिद खान ने नाराजगी जाहिर करते हुए चेयरमैन के डेस्क के सामने आकर विरोध जताया।

दिलीप रामनानी का स्वास्थ्य ठीक नहीं था

अधिकारीयों की इस व्यवहार का बीजेपी पार्षद अपर्णा गोयल , हिमांशी पांडेय और अतुल गुप्ता ने भी भत्सर्ना की .इस मामले में गोविंद अग्रवाल ने कहा कि अधिकारीयो के व्यवहार को गैरजिम्मेदारान बताया है , साथ ही कहा कि दिलीप रामनानी का स्वास्थ्य ठीक नहीं था और विपक्षी पार्षदों ने दुर्व्यवहार किया .

Comments are closed.