दिल्ली पुलिस की क्राइम ब्रांच ने वाहन चोर गिरोह को पकड़ने में कामयाबी हासिल की, 207 इंजन बरामद

दिल्ली पुलिस की क्राइम ब्रांच ने वाहन चोर गिरोह को पकड़ने में कामयाबी हासिल की, 207 इंजन बरामद

रिपोर्ट: राकेश रावत

दिल्ली पुलिस की क्राइम ब्रांच ने एक ऐसे वाहन चोर गिरोह को पकड़ने में कामयाबी हासिल की है जिसने वाहन चोरी का दोहरा शतक लगा लिया था. पुलिस ने इस गिरोह के सात सदस्यों को गिरफ्तार किया है जिनके कब्जे से चोरी के 207 इंजन और सात बाइक की चेसिस बरामद हुई हैं.

पुलिस की गिरफ्त में खड़े ये बदमाश इतने कुख्यात हैं कि पल भर में आपकी गाड़ी को आपकी नज़रों के सामने से चुरा लेंगे और आपको पता तक नहीं चलेगा. 22 साल के अज़ीम और 32 साल के जावेद ये काम पिछले काफी समय से कर रहे थे. ये दोनों शातिर बदमाश सीलमपुर और मुस्तफाबाद के रहने वाले है. डीसीपी रोहित मीणा ने बताया कि जमुनापार इलाके में वहां चोरी कि वारदातों में पिछले कुछ समय से तेजी आयी थी और आनंद विहार थाना क्षेत्र में रोज़ाना गाड़ियां चोरी की वारदातों की जानकारी मिल रही थी.

रोहित मीणा ने एसीपी अरविन्द कुमार के नेतृत्व में एक टीम गठित करके वहां चोरी के मामलों कि जांच में लगाया. पुलिस ने इलाके के सीसीटीवी और टेक्निकल सर्विलियांस के जरिये अज़ीम और जावेद के वहां चोरी में शामिल होने कि जानकारी मिली. पुलिस ने एक सूचना पर जब इनको गिरफ्तार किया तो इनकी निशानदेही पर गाड़ियों के कई इंजन बरामद हुए. पूछताछ में इन्होने बताया कि इन्होने दो सौ से ज्यादा कार और बाइक चोरी को अंजाम दिया है. पुलिस ने इनकी निशानदेही पर गोकुलपुरी के फुरकान को गिरफ्तार किया जहाँ उसके गोदाम से चोरी के 125 पुराने इंजन बरामद हुए.

बाइट-फुरकान ने पूछताछ में बताया कि अज़ीम और जावेद उसको बाइक चोरी करके देते थे जिसे वह ग्राइंडिंग मशीन के जरिये नंबर चेंज करके आम लोगों को बेच देते थे. फुरकान की निशानदेही पर पुलिस ने हरिओम, शाहिद और नदीम को गिरफ्तार कर लिया. पुलिस ने गोकुलपुरी मार्किट की ग्यारह दुकाने भी सील की हैं जो चोरी की गाड़ियों के इंजन बेच रहे थे. बदमाशों का ये गिरोह दिल्ली और आसपास के जिलों में वारदातों को अंजाम देता था. पुलिस के अनुसार अज़ीम और जावेद आलीशान ज़िन्दगी जीने के लिए पहले चेन स्नैचिंग करते थे लेकिन उसमे ज्यादा फायदा नहीं होता देखकर वाहन चोरी करने लगे और इस गिरोह ने अभी तक 200 से ज्यादा गाड़ियों को चोरी करके उनके इंजन को आम लोगो की गाड़ियों में लगाकर बेचा है. इन बदमाशों पर चेन छीनने और वाहन चोरी के कई मामले दर्ज हैं. पुलिस ने इनके खिलाफ मामला दर्ज करके आगे की कार्यवाई शुरू कर दी है.

Comments are closed.