दलित बच्ची की नृशंस हत्या से आहत सीएम केजरीवाल ने पीड़ित परिवार से की मुलाकात, बांटा दर्द

- पीड़ित परिवार को 10 लाख रुपए की आर्थिक सहायता और मामले की मजिस्ट्रेट जांच कराने का किया वादा

नई दिल्ली। राजधानी के दिल्ली कैंट इलाके में दलित समाज की मासूम बच्ची की नृशंस हत्या और उसके साथ हुए जुल्म से आहत मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने आज पीड़ित परिवार से मुलाकात की। सीएम ने कहा कि बच्ची के परिवार से मिला और उनका दर्द बांटा। दिल्ली सरकार परिवार को 10 लाख रुपए की आर्थिक सहायता देगी। साथ ही, इस मामले की मजिस्ट्रेट जांच होगी और दोषियों को सजा दिलवाने के लिए बड़े से बड़ा वकील कोर्ट में लगाएंगे। दिल्ली सरकार पीड़ित परिवार के साथ खड़ी है और परिवार को हर संभव मदद देगी। सीएम अरविंद केजरीवाल ने केंद्र से अपील करते हुए कहा कि केंद्र सरकार दिल्ली में कानून व्यवस्था को दुरूस्त करने के लिए कड़े कदम उठाए, हम पूरा सहयोग करेंगे।

सीएम अरविंद केजरीवाल ने पीड़ित परिवार से मुलाकात करने के उपरांत ट्वीट कर इसकी जानकारी साझा की। सीएम ने ट्वीट कर कहा, ‘‘बच्ची के परिवार से मिला, उनका दर्द बांटा। परिवार को 10 लाख रुपए की आर्थिक सहायता देंगे। इस मामले की मजिस्ट्रेट जांच होगी और दोषियों को सजा दिलवाने के लिए बड़े वकील लगाएंगे। केंद्र सरकार दिल्ली में कानून व्यवस्था दुरूस्त करने के लिए कड़े उठाए, हम पूरा सहयोग करेंगे।’’

दिल्ली कैंट इलाके में दलित समाज की मासूम बच्ची की नृशंस हत्या और उसके साथ हुए जुल्म से आहत मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने बुधवार को पीड़ित परिवार से मुलाकात करने उनके घर पहुंचे। इस दौरान मुख्यमंत्री के साथ महिला एवं बाल विकास मंत्री राजेंद्र पाल गौतम, दिल्ली महिला आयोग की अध्यक्ष स्वाति मालीवाल, दिल्ली कैंट के विधायक के अलावा आम आदमी पार्टी के कई अन्य विधायक भी मौजूद रहे।

सीएम अरविंद केजरीवाल ने पीड़ित परिवार से मुलाकात के दौरान दिल्ली सरकार की तरफ से हर संभव मदद करने का आश्वासन दिया। सीएम ने मीडिया से बातचीत में कहा कि हमारी 9 साल की बेटी के साथ जो हादसा हुआ और उसके साथ गलत काम करके उसका कत्ल कर दिया गया। यह बेदह दुखद बात है। मैंने बच्ची के माता-पिता से मुलाकात की। सीएम ने कहा कि अपनी बच्ची तो वापस नहीं आ सकती है। जो परिवार के साथ अन्याय हुआ है, वह बेहद दुखद है। उसकी भरपाई पूरी नहीं की जा सकती है, लेकिन दिल्ली सरकार परिवार को दस लाख रुपए मुआवजा देगी। इस मामले में हम मजिस्ट्रेट जांच का आदेश करेंगे। इस मामले में दिल्ली सरकार सबसे बड़े-बड़ा वकील कोर्ट में लगाएगी, ताकि दोषियों को सख्त से सख्त सजा दिलवाई जा सके।

सीएम अरविंद केजरीवाल ने कहा कि दिल्ली में कानून व्यवस्था को ठीक करने की बहुत जरूरत है। कानून व्यवस्था में दुरूस्ती लाने की बहुत जरूरत है। मेरी केंद्र सरकार से अपील है कि इस बारे में ठोस कदम उठाए जाएं और हम अपनी तरह से उसमें पूरा सहयोग करेंगे। केंद्र सरकार जो भी हमसे कहेगी, उसमें हम पूरा सहयोग करेंगे। दिल्ली देश की राजधानी है। अगर राजधानी दिल्ली में इस तरह की घटनाएं घटती हैं, तो यह अच्छा संदेश नहीं जाता है। लोग खुद को असुरक्षित भी महसूस करते हैं और पूरी दुनिया के अंदर भी यह संदेश अच्छा नहीं जाता है कि भारत की राजधानी के अंदर इस तरह की हरकत हो रही है। हमें अपनी कानून-व्यवस्था को भी दुरूस्त करने की जरूरत है।

Comments are closed.