दिल्ली: बीच सड़क पर लूट का प्रयास, बदमाशों ने चलाईं चार राउंड गोलियां

दिल्ली: बीच सड़क पर लूट का प्रयास, बदमाशों ने चलाईं चार राउंड गोलियां

रिपोर्ट: रवि डालमिया

पूर्वी दिल्ली के शकरपुर में बीती रात बाइक सवार तीन बदमाशों ने बीच सड़क दो भाइयों से लूट का प्रयास किया, तीनों के पास पिस्टल थीं। इसके बावजूद बहादुर भाइयों ने हिम्मत नहीं हारी और आरोपियों से भिड़ गए। खुद को फंसते देख आरोपियों ने चार राउंड फायरिंग की और अपने मंसूबे में कामयाब नहीं हो सके, तो फरार हो गए। घटना की सूचना पुलिस को दी गई, दर्जनभर पुलिसवाले मौके भी पहुंचे और छानबीन कर पीड़ित को थाने ले गए। मगर यहां दूसरी कहानी शुरू हुई और जिन भाइयों ने बदमाशों का सामना किया, उनकी हिम्मत पुलिस के आगे टूट गई। आरोप है कि उनसे इस तरह पूछताछ की गई, जैसे वही अपराधी हों। थाना परिसर में ही परिवार ने मीडिया के सामने नाराजगी जाहिर की, फिर वहां से चले गए। इन दोनों घटनाओं के विडियो भी सामने आए हैं, जिसमें एक ओर दोनों भाई बदमाशों से भिड़ते नजर आ रहे हैं। वहीं दूसरी में परिवार पुलिस को कोसता दिख रहा है।

पीड़ित दीपक चड्ढा (52) परिवार समेत रामप्रस्थ में रहते हैं

पीड़ित दीपक चड्ढा (52) परिवार समेत रामप्रस्थ में रहते हैं, जिनके छोटे भाई राजीव चड्ढा नोएडा में रहते हैं। दोनों का रियल एस्टेट का कारोबार है। शुक्रवार रात साढ़े दस बजे दोनों साथ ही कार में करोल बाग से लौट रहे थे। बड़े भाई ने छोटे को अपने घर डिनर के बाद नोएडा जाने को कहा था। इस बीच रास्ते में दोनों लक्ष्मी नगर मेट्रो स्टेशन के आगे विकास मार्ग स्थित हनुमान मंदिर पर दोनों माथा टेकने रुके। पीछे गाड़ी में राजीव की पत्नी, बेटा और दीपक का एक बेटा भी आ रहा था। दीपक दुकान से कुछ सामान लेने लगे जबकि राजीव फोन पर बात कर रहे थे।

इसी दौरान बाइक सवार तीन बदमाश वहां आए

इसी दौरान बाइक सवार तीन बदमाश वहां आए, जिन्होंने हेलमेट लगाए हुए थे। पीछे बैठे बदमाश ने उतरकर राजीव पर पिस्टल तानी और सोने का कड़ा उतारने को कहा। मगर यहां पीड़ित अड़ गए कि क्यों उतारूं। शोर सुनकर भाई भी आ गए। दोनों एक-एक बदमाश से भिड़ गए। इस घटना को पास के दुकानदार ने फोन में रिकॉर्ड कर लिया। आरोपियों ने पीड़ित पर निशाना लगाते हुए एक गोली चलाई जबकि तीन हवाई फायर किए। इसके बाद तीनों बदमाश फरार हो गए। फिर पुलिस कॉल हुई।

पुलिस की कार्रवाई से हताश परिवार

वही इस पूरे मामले पर डीसीपी ईस्ट प्रियंका कश्यप से बात करने का प्रयास किया गया। मगर उनसे संपर्क नहीं हो सका। मैसेज कर के भी उनसे जानकारी मांग गई लेकिन उस पर भी उन्होंने कोई प्रतिक्रिया नहीं दी।

Comments are closed.