दिल्ली : आनंद विहार बस अड्डे पर बस माफियाओं का कब्जा, सवारी के साथ मारपीट कर करते हैं लूटपाट

 

रिपोर्ट : रवि डालमिया

दिल्ली के आनंद विहार बस अड्डे पर ऐसे बस माफियाओं का कब्जा है जो सवारियों को बस में जबरदस्ती बिठाते, मना करने पर सवारी के साथ मारपीट कर लूटपाट करते हैं पूर्वी दिल्ली की पटपड़गंज इंडस्ट्रियल एरिया थाना पुलिस ने ऐसे ही एक बस के ड्राइवर और कंडक्टर को गिरफ्तार किया है जिसके सवारी को जबरदस्ती अपनी गाड़ी में बैठाने का प्रयास किया है मना करने पर उसके साथ जमकर मारपीट की गई और उसका ₹ 13500 लौटकर भागने लगा पुलिस ने दोनों आरोपियों को गिरफ्तार करने के साथ ही बस को भी जप्त कर लिया लूटा गया पैसा बरामद कर लिया है।

जेब से 13,500 रुपये निकाल लिए और उसे धक्का दे दिया

गिरफ्तार आरोपी की पहचान ड्राइवर सलीम और कंडक्टर सदाकत को गिरफ्तार कर लिया दोनों उत्तर प्रदेश के हापुड़ के रहने वाले हैं एसीपी प्रियंका कश्यप ने बताया कि यूपी के बदायूं जिले के रहने वाले रामवीर शनिवार को बदायूं जाने के लिए आनंद विहार पहुंचे जब वह प्लेटफार्म नंबर 72 के पास बस का इंतजार कर रहे थे एक व्यक्ति उनके पास आया और उनके गंतव्य के लिए पूछताछ की उस व्यक्ति ने तब यूपी नंबर एक बस की ओर इशारा किया और बदायूं के लिए उस पर सवार होने को कहा पीड़ित ने यह कहकर मना कर दिया कि वह केवल बदायूं के लिए रोडवेज बस में सवार होगा। इसी बीच उक्त बस से दो और लोग बाहर निकले और उन्हें उक्त बस में सवार होने के लिए जबरदस्ती करने लगे मना करने पर पीटना शुरू कर दिया। इनमें से एक ने धारदार हथियार से उसके साथ मारपीट भी की। इन दोनों व्यक्तियों के साथ-साथ तीसरे व्यक्ति ने जो प्लेटफार्म पर उसके पास गया था, ने भी जबरन उसकी जेब से 13,500 रुपये निकाल लिए और उसे धक्का दे दिया।

तीसरे साथी की गिरफ्तारी के लिए छापेमारी जारी

शिकायतकर्ता को चोटें आई हैं और इसके बाद ये सभी आरोपी बस में सवार होकर मौके से फरार हो गए। पीड़ित ने पुलिस को फोन कर पूरी घटना बताई। सूचना पर कार्रवाई करते हुए, बस को कंस्टेबल अजीत और कंस्टेबल विपिन ने एमपीवी वाहन पर पीछा किया और आईएसबीटी, आनंद विहार के ‘आउट गेट’ के पास से बस कोइसे रोक लिया और बस में मौजूद ड्राइवर सलीम और कंडक्टर सदाकत को गिरफ्तार कर लिया दोनों उत्तर प्रदेश के हापुड़ के रहने वाले हैं जबकि इनका तीसरा साथी नई भागने में कामयाब रहा इनके पास से लूटे गए पैसे भी बरामद किए गए और बस को भी जब्त कर लिया गया। तीसरे साथी की गिरफ्तारी के लिए छापेमारी की जा रही है।

Comments are closed.