दिल्ली : अभिभावकों का स्कूल के गेट के बाहर धरना प्रदर्शन, जमकर हुई नारेबाजी, रिजल्ट नही देने का आरोप

 

रिपोर्ट : रवि डालमिया

दिल्ली में आम आदमी पार्टी की सरकार का सबसे बड़ा मुद्दा शिक्षा का रहा और सरकार लगातार दावे भी करती रही कि उन्होंने शिक्षा के स्तर को सुधारा और पब्लिक स्कूलों को फीस भी नही बढ़ाने दी उप मुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया के पटपड़गंज विधानसभा का ही एक स्कूल पेरेंट्स इस तरह प्रताड़ित कर रहा है कि अभिभावकों को स्कूल के गेट के बाहर धरने पर बैठना पड़ गया।उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया की विधानसभा के एस्टर पब्लिक स्कूल में फीस ना देने पर बच्चो का रिजल्ट रोका गया पेरेंट्स स्कूल के गेट के बाहर हाथों में तख्तियां लिए हुए धरने पर बैठे स्कूल प्रशाशन ने कहा जब तक पूरी फीस नही देंगे रिजल्ट नही देंगे जबकि सुप्रीम कोर्ट का आदेश है कि किसी भी स्टूडेंट का रिजल्ट फीस के लिए नही रोक सकते।

दिल्ली सरकार के खिलाफ जमकर नारेबाजी

दरअसल स्कूल ने आज मध्यवर्ष परीक्षा का रिजल्ट के लिए पी टी एम बुलाई थी लेकिन पेरेंट्स को ना सिर्फ रिजल्ट देने से मना कर दिया जबकि फीस भी बढ़ा कर मांगी जिसके बाद अभिभावक धरने पर बैठ गए और स्कूल प्रशाशन और दिल्ली सरकार के खिलाफ जमकर नारेबाजी की ओर बढ़ी हुई फीस को वापस लेने और बच्चो का रिजल्ट देने की मांग पर अड़ गए। स्कूल प्रशाशन इस पूरे मुद्दे पर चुप्पी साधे हुए है वही स्कूल पूरी तरह से सुप्रीम कोर्ट के आदेश का खुला उलंघन कर रहा वहीं सरकार का भी कोई आदेश मानने को तैयार नहीं है जिससे साफ है कि पब्लिक स्कूल किस तरह मनमानी कर रहे हैं।हैरान कर देने वाली बात यह है कि एस्टर पब्लिक स्कूल उपमुख्यमंत्री व शिक्षा मंत्री मनीष सिसोदिया के विधानसभा में स्थित है।काफी देर धरने पर बैठे और नारेबाजी करते पेरेंट्स को आखिर पुलिस का सहारा लेना पड़ा वही 100 नंबर कॉल कर पुलिस मौके पर पहुंची और स्कूल प्रशासन से बात करने के लिए स्कूल के अंदर गई हुई है।

Comments are closed.