दिल्ली : जहांगीरपुरी हिंसा मामले में घायल पुलिसकर्मी ने बताई आंखों देखी, पुलिसकर्मी का हालचाल जानने के लिए घर पहुंचे पुलिस कमिश्नर

रिपोर्ट : रवि डालमिया

जहांगीरपुरी हिंसा मामले में घायल पुलिसकर्मी ने बताई आंखों देखी इस तरीके से फैला दंगा पुलिसकर्मियों ने किस तरीके से दोनों समुदाय के लोगों को समझाने की कोशिश और अचानक दंगाइयों की तरफ से चलाई गई गोलियों का हुए शिकार इस हमले में 8 पुलिसकर्मियों को आई चोटें घायल पुलिसकर्मी से मिलने और उनका हालचाल जानने के लिए घर पहुंचे दिल्ली पुलिस कमिश्नर।

जहांगीरपुरी हिंसा मामले में 8 पुलिसकर्मी सहित नौ लोग घायल

जहांगीरपुरी हिंसा मामले में 8 पुलिसकर्मी सहित नौ लोग घायल हुए इसमें से एक पुलिसकर्मी मदनलाल भी जिनके हाथ में दंगाइयों की तरफ से चलाई गई गोली लगी और वह गंभीर रूप से घायल हो गए मदनलाल को साथी पुलिसकर्मियों द्वारा अस्पताल ले जाया गया उनका इलाज हुआ और उन्हें आराम करने की हिदायत दी गई कैसे यह पूरी हिंसा शुरू हुई पुलिस कर्मियों का क्या रोल रहा किस तरीके से विवाद अचानक हिंसक रूप ले गया मदनलाल जो समय मौके पर मौजूद थे और घायल भी हुए उन्होंने बताया कि हनुमान जन्मोत्सव के दिन शोभायात्रा निकाली जा रही थी जैसे ही यह शोभायात्रा जहांगीरपुरी कुशल सिनेमा के आगे बनी हुई मस्जिद के पास पहुंची अचानक से कुछ लोगों ने पथराव कर दिया।

हिंसा के दौरान जमकर पत्थरबाजी हुई आगजनी हुई और गोलियां भी चली

पुलिसकर्मियों ने उस वक्त तो दोनों समुदाय के लोगों को समझा-बुझाकर अलग अलग कर दिया और शोभायात्रा आगे निकल गई लेकिन कुछ ही मिनटों बाद सी ब्लॉक जहांगीरपुरी की तरफ से सैकड़ों की संख्या में भीड़ हथियार लेकर आई और जमकर उपद्रव मचाया और देखते-देखते हिंसक रूप ले लिया गया. हिंसा के दौरान जमकर पत्थरबाजी हुई आगजनी हुई और गोलियां भी चलाई गई दंगाइयों की सी गोली का शिकार दिल्ली पुलिस के जवान मदन लाल हो गए और उनके हाथ में गोली लगी इसके बाद वह लहूलुहान होकर जमीन पर ही गिर पड़े दोनों ही समुदाय के लोगों की तरफ से उनकी कोई सहायता नहीं की गई कुछ पुलिसकर्मी साथियों ने ही उन्हें आनन-फानन में अस्पताल पहुंचाया और अब फिलहाल वह ठीक है खतरे से बाहर हैं और बातचीत कर रहे हैं।

Comments are closed.