देश के अगले सेना उप-प्रमुख होंगे लेफ्टिनेंट जनरल मनोज पांडे, केंद्र ने लगाई मुहर

-आगामी 31 जनवरी को सेवानिवृत्त होने वाले लेफ्टिनेंट जनरल सीपी मोहंती का स्थान लेंगे जनरल पांडे

नई दिल्ली। केंद्र सरकार ने भारतीय थल सेना के नए उप प्रमुख के तौर पर पूर्वी सेना के कमांडर लेफ्टिनेंट जनरल मनोज पांडे के नाम पर मुहर लगा दी है। सूत्रों ने बताया कि पूर्वी सेना के कमांडर को सेना उप प्रमुख बनाया जा रहा है। वह 31 जनवरी को सेवानिवृत्त होने वाले लेफ्टिनेंट जनरल सीपी मोहंती का स्थान लेंगे। अब देश को अगले चीफ ऑफ डिफेंस स्टाफ (सीडीएस) की नियुक्ति का इंतजार है।

आपरेशन विजय और आपरेशन पराक्रम में ले चुके हैं भाग

जनरल पांडे को दिसंबर 1982 में कोर आफ इंजीनियर्स (द बाम्बे सैपर्स) में नियुक्त किया गया था। वह स्टाफ कालेज, केम्बरली (यूनाइटेड किंगडम) से ग्रेजुएट हैं। उन्होंने आर्मी वार कालेज महू और दिल्ली में नेशनल डिफेंस कालेज (एनडीसी) में हायर कमांड कोर्स में भाग लिया। देश के लिए अपनी 37 वर्षों की विशिष्ट सेवा के दौरान पांडे ने आपरेशन विजय और आपरेशन पराक्रम में सक्रिय रूप से भाग लिया है।

पश्चिमी लद्दाख में LAC के साथ-साथ उत्तर-पूर्व में संभाल चुके हैं कमान 

जनरल पांडे जम्मू और कश्मीर में नियंत्रण रेखा के साथ एक इंजीनियर रेजिमेंट, स्ट्राइक कोर के हिस्से के रूप में एक इंजीनियर ब्रिगेड, नियंत्रण रेखा के साथ एक इन्फैंट्री ब्रिगेड, पश्चिमी लद्दाख के ऊंचाई वाले इलाके में एक माउंटेन डिवीजन और वास्तविक नियंत्रण रेखा (LAC) के साथ-साथ उत्तर-पूर्व में काउंटर इंसर्जेंसी आपरेशंस क्षेत्र में भी एक कोर की तैनाती की कमान संभाली है।

8 दिसंबर को हुई थी जनरल रावत की मौत

लेफ्टिनेंट जनरल पांडे ने महत्वपूर्ण स्टाफ असाइनमेंट को किराए पर लिया है और उन्हें इथियोपिया और इरिट्रिया में संयुक्त राष्ट्र मिशन में चीफ इंजीनियर के रूप में तैनात किया गया था। वह सेना मुख्यालय में महानिदेशक थे, जो अनुशासन, समारोह और कल्याण के विषयों से निपटते थे। आपको बता दें कि बीते 8 दिसंबर को एक हेलिकाप्टर दुर्घटना में जनरल बिपिन रावत की मौत के बाद सीडीएस का पद खाली हो गया था।

Comments are closed.