‘देशद्रोहियों’ और पत्थरबाजों पर कसी नकेल! नहीं मिलेगी सरकारी नौकरी

देश के खिलाफ नारेबाजी करने वाले और पत्थरबाजी करने वालों को इसके तहत सरकारी नौकरी नहीं दी जाएगी.

जम्मू-कश्मीर में अब पत्थरबाजों (Stone Pelters) और देशद्रोहियों (Anti-Nationals) की खैर नहीं है. इन पर नकेल कसने के लिए सरकार ने एक नया आदेश जारी किया है. देश के खिलाफ नारेबाजी करने वाले और पत्थरबाजी करने वालों को इसके तहत सरकारी नौकरी नहीं दी जाएगी. साथ ही ऐसे लोगों के पासपोर्ट पर भी पाबंदी लगा दी जाएगी. शीर्ष सरकारी अधिकारियों ने बताया कि इस सिलसिले में सीआईडी ​​की विशेष शाखा ने सभी इकाइयों को आदेश जारी कर दिया है. इसके तहत कहा गया है कि राज्य के कानून और व्यवस्था का जिन लोगों से खतरा है उन पर नज़र रखी जाए.

कहा जा रहा है कि सभी डिजिटल साक्ष्य और पुलिस रिकॉर्ड को ऐसे लोगों पर सख्ती के लिए ध्यान में रखा जाएगा. इससे पहले, जम्मू-कश्मीर सिविल सेवा नियमों में केंद्रशासित प्रदेश प्रशासन ने एक संशोधन किया था, जिसमें कहा गया था कि सरकारी नौकरी पाने के लिए एक संतोषजनक सीआईडी ​​रिपोर्ट अनिवार्य है.

Comments are closed.