देशव्यापी विरोध के बाद रेलवे ने मानी छात्रों की मांग: भर्ती परीक्षा के पैटर्न में किया बदलाव

-आरआरबी ग्रुप डी एनटीपीसी परीक्षा 2022 के आधे अधूरे परिणाम के बाबत गठित उच्च-स्तरीय कमेटी के सुझावों के अनुसार उम्मीदवारों की मांगों को रेल मंत्रालय ने किया स्वीकार

नई दिल्ली। रेलवे के आरआरबी ग्रुप डी और आरआरबी एनटीपीसी परीक्षाओं की तैयारी में जुटे आवेदकों के देशव्यापी विरोध के बाद रेल मंत्रालय ने एक महत्वपूर्ण फैसला किया है, जिसके मुताबिक रेलवे भर्ती बोर्ड (आरआरबी) लेवल 1 (ग्रुप डी) भर्ती के लिए जोड़ी गई अतिरिक्त परीक्षा और एनटीपीसी के पहले चरण के नतीजों में 20 गुना ‘यूनीक’ आवेदकों को सफल घोषित किए जाने की मांगों को स्वीकार कर लिया गया है।

यानी रेलवे भर्ती बोर्ड (आरआरबी) द्वारा वीरवार, 10 मार्च 2022 को जारी नोटिस के अनुसार, सीईएन 01/2019 (एनटीपीसी) के लिए निर्धारित चयन प्रक्रिया के अंतर्गत दूसरे चरण के कंप्यूटर बेस्ड टेस्ट (सीबीटी 2) के लिए पहले चरण (सीबीटी 1) में प्रदर्शन के आधार पर 20 गुना ‘यूनीक’ उम्मीदवारों को शॉर्टलिस्ट किया जाएगा।

RRB NTPC के लिए जारी होगा एडिशनल रिजल्ट, सीबीटी 2 मई में

आरआरबी के नोटिस के अनुसार, जिन उम्मीदवारों को पहले सफल घोषित किया गया है, वे सीबीटी के लिए पात्र होंगे और बोर्ड द्वारा अतिरिक्त सफल उम्मीदवारों की सूची जारी की जाएगी। यह सूची हर पे-लेवल के अनुसार अप्रैल 2022 के पहले सप्ताह के दौरान जारी की जाएगी। इस भर्ती के लिए पे-लेवल 6 के लिए दूसरे चरण की सीबीटी परीक्षा मई 2022 में होगी। अन्य पे-लेवल के लिए परीक्षा तारीख आरआरबी द्वारा बाद में घोषित की जाएगी।

RRB लेवल 1 के लिए अब एक ही सीबीटी होगी जुलाई 2022 में

रेलवे भर्ती बोर्ड की सूचना के मुताबिक, एक लाख से अधिक पदों वाली लेवल 1 भर्ती (सीईएन आरआरसी 01/2019) के लिए निर्धारित चयन प्रक्रिया अधिसूचना के अनुसार ही रहेगी और आवेदकों को पहले चरण में सिर्फ एक ही लिखित परीक्षा देनी होगी। इस परीक्षा के लिए आरआरबी द्वारा एक ‘एग्जाम कंडक्टिंग एजेंसी (ईसीए)’ गठन जल्द से जल्द किया जाएगा। इस कमेटी द्वारा आरआरबी लेवल 1 सीबीटी का आयोजन जुलाई 2022 में किया जाएगा। बता दें कि आरआरबी ने 24 जनवरी 2022 को इस भर्ती को लेकर संशोधन नोटिस जारी किया था, जिसके अनुसार अधिक आवेदकों को देखते हुए अतिरिक्त लिखित परीक्षा (सीबीटी 2) की घोषणा की गयी थी, जिसे लेकर आवेदकों ने देशभर के रेलवे स्टेशन और रेल की पटरियों पर तोड़फोड़ व आगजनी की थी।

Comments are closed.