दिल का दौरा पड़ने से रावण ‘अरविंद त्रिवेदी’ का निधन, सीता और लक्ष्मण ने जताया दुःख

-अरविंद त्रिवेदी ने फिल्मकार रामानंद सागर के लोकप्रिय धारावाहिक रामायण में निभाया था रावण का किरदार

नई दिल्ली। फिल्म निर्माता रामानंद सागर के लोकप्रिय टीवी धारावाहिक ‘रामायण’ में रावण का किरदार निभाने वाले अभिनेता अरविंद त्रिवेदी (83 वर्ष) का मंगलवार की रात यानि पांच अक्तूबर को दिल का दौरा पड़ने से निधन हो गया। उनके निधन की खबर ने पूरे मनोरंजन जगत को गहरा सदमा दिया है। आज सुबह मुंबई में उनका अंतिम संस्कार किया जाएगा।

उनके निधन की जानकारी मिलने पर उनके साथी कलाकारों ने सोशल मीडिया पर दुख जाहिर किया है। धारावाहिक रामायण में लक्ष्मण का किरदार निभाने वाले अभिनेता सुनील लहरी ने लिखा, ‘बहुत दुखद समाचार है कि हमारे प्यारे अरविंद भाई अब हम सबके बीच नहीं रहे, भगवान उनकी आत्मा को शांति दे। मैं कुछ भी कह नहीं पा रहा हूं। मैंने अपने पिता समान एक शुभचिंतक और सज्जन को खो दिया’।

धारावाहिक रामायण में सीता का किरदार निभाकर घर-घर मशहूर हुईं दीपिका चिखलिया ने भी इंस्टाग्राम पर दुख भरा पोस्ट साझा किया है।अभिनेत्री ने लिखा, ‘पूरे परिवार को मेरे दिल से संवेदना। वो एक बहुत ही सुलझे हुए इंसान थे’।

साथ ही फिल्मकार अशोक पंडित ने भी ट्वीट कर अपना दुख साझा किया। उन्होंने लिखा, ‘एक बेहतरीन थिएटर, टीवी और फिल्म कलाकार अरविंद त्रिवेदी के दिल का दौरा पड़ने के कारण हुए निधन ने गहरा दुख दिया है। परिवार को मेरी तरफ से दिल से संवेदना’।

इसके साथ ही सोशल मीडिया पर फैंस ने भी अपने पसंदीदा रावण को भारी मन से अलविदा कहा। एक यूजर ने लिखा, ‘हर आत्मा को एक दिन अपने घर लौट जाना होता है जहां से शुरूआत हुई रहती है। अरविंद त्रिवेदी हम सबको छोड़कर चले गए जिनके जाने से मनोरंजन जगत को गहरा नुकसान हुआ है’।

अरविंद त्रिवेदी के भतीजे कौस्तुभ त्रिवेदी ने उनके निधन के खबर की पुष्टि करते हुए कहा कि ‘मंगलवार (5 अक्तूबर) रात करीब 10 बजे उनका निधन हो गया है। उन्होंने बताया कि ‘चाचाजी पिछले कुछ सालों से लगातार बीमार चल रहे थे। पिछले तीन साल से उनकी तबीयत कुछ ज्यादा ही खराब रहने लगी थी। ऐसे में उन्हें दो-तीन बार अस्पताल में भी दाखिल कराना पड़ा था। एक महीने पहले ही वो अस्पताल से एक बार फिर घर लौटे थे। मंगलवार की रात उन्हें दिल का दौरा पड़ा और उन्होंने कांदिवली स्थित अपने घर में ही दम तोड़ दिया।’

Comments are closed.