डीएम ने बैठक में अधिकारियों की कसी नकेल

जिला टास्क फोर्स के निर्देशन में होगा कोविड टीकाकरण का चिन्हीकरण

प्रणय तिवारी

जौनपुर: जिलाधिकारी मनीष कुमार वर्मा की अध्यक्षता में
गुरुवार को कलेक्ट्रेट सभागार में बैठक हुई। जिसमें कोविड संवेदीकरण व नियंत्रण तथा कोविड रोग के लक्षणयुक्त व्यक्तियों, नियमित टीकाकरण से छूटे बच्चों, 60 वर्ष से अधिक आयु वर्ग में कोविड टीके की पहली खुराक न प्राप्त करने वाले व्यक्तियों के चिन्हीकरण करने का अधिकारियों को उन्होंने निर्देश दिए।
बैठक में कोविड संवेदीकरण, कोविड रोग के लक्षण युक्त व्यक्तियों, नियमित टीकाकरण से छूटे बच्चों तथा 80 वर्ष से अधिक आयु वर्ग में कोविड टीके की पहली खुराक न प्राप्त करने वाले व्यक्तियों के चिन्हीकरण तथा सूचीबद्ध किये जाने का निर्णय लिया गया।
इस क्रम में जनपदों में यह कार्य 24 जनवरी से 29 जनवरी 2022 तक संचालित किया जाएगा। (26 जनवरी को छोड़कर) कार्य योजना बनाकर जनपद के समस्त आवासों का भ्रमण सुनिश्चित करते हुए इसे संचालित किया जायेगा।

जिला टास्क फोर्स समिति का गठन किया गया है, जिसमें स्वास्थ्य विभाग, पंचायती राज विभाग, ग्राम्य विकास, एकीकृत बाल विकास योजना (आईसीडीएस), सिविल डिफेन्स, राष्ट्रीय कैडेट कोर (एनसीसी) राष्ट्रीय सेवा योजना (एनसीसी) नगर निकाय, वन विभाग, कृषि विभाग, जनपद के प्रमुख गैर-सरकारी संगठनों, विश्व स्वास्थ्य संगठन तथा यूनिसेफ के द्वारा अनिवार्य रूप से प्रतिभाग किया जाएगा।
उक्त बैठक में मुख्य चिकित्सा अधिकारी ने बताया कि सभी प्रतिभागी विभागों/संस्थाओं/संगठनों के द्वारा सर्वेक्षण में तैनात किए जाने हेतु मानव संसाधन की सूची (नाम/पद/तैनाती स्थल/मोबाइल नम्बर) सहित प्रतिभाग किया जाएगा। जनपद के स्वास्थ्य विभाग एवं विश्व स्वास्थ्य संगठन के सर्विलान्स मेडिकल ऑफिसर के द्वारा संयुक्त रूप से पल्स पोलियो अभियान के अनुसार माइकोप्लान तैयार कर उपरोक्त मानव-संसाधन यथास्थान तैनात किया जाएगा एवं तदानुसार मैचिंग का कार्य किया जाएगा। इस कार्य योजना को पूर्णतः पल्स पोलियो अभियान की भांति ही संचालित करते हुए पल्स पोलियो अभियान के एक दिवस का कार्य इस अभियान में भी एक कार्य दिवस में ही पूर्ण किया जाएगा। कोविड नियंत्रण हेतु 05 दिवसीय संदर्भित प्रयास हेतु वित्तीय प्रावधान माह सितंबर 2021 में संपादित विशेष कोविड संवेदीकरण अभियान के भॉति ही होंगे जिसके लिए पृथक से दिशा-निर्देश निर्गत किए जाएंगे।

कोविड की पहली खुराक न लेने वाले घर-घर होंगे चिन्हित

कोविड टीके की पहली खुराक न लेने वाले लोगों को चिन्हित किया जाएगा । इसके लिये 21 जनवरी को स्वास्थ्य विभाग, सर्विलान्स मेडिकल आफिसर (विश्व स्वास्थ्य संगठन) एवं एस०एम०एन०ई०टी० (यूनिसेफ) के द्वारा समस्त पर्यवेक्षकों एवं टीम के सदस्यों को छोटे-छोटे समूहों में प्रशिक्षण दिया जाएगा।
अभियान से सम्बन्धित कार्यकर्ताओं द्वारा भरा जाने वाला सर्वेक्षण प्रारूप तथा पर्यवेक्षकों द्वारा भरा जाने वाला अनुश्रवण एवं रिपोर्टिंग-प्रारूप स्वास्थ्य विभाग द्वारा राज्य स्तर से उपलब्ध कराया जायेगा। प्रारूप में कोविड रोग के लक्षण युक्त व्यक्तियों, नियमित टीकाकरण से छूटे बच्चों तथा 60 वर्ष से अधिक आयु वर्ग में कोविड टीके की पहली खुराक न प्राप्त करने वाले व्यक्तियों के सूचीबद्ध किये जाने हेतु प्रावधान किया गया है। विश्व स्वास्थ्य संगठन एवं यूनिसेफ के द्वारा माइकोप्लान, मैपिंग, अनुश्रवण, पर्यवेक्षण एवं रिपोर्टिंग हेतु प्रत्येक स्तर पर तकनीकी सहयोग प्रदान किया जाएगा। प्रपत्र-1 हाउस टू हाउस टैली शीट, प्रपत्र- 2 सर्वेक्षण टीम के द्वारा लाइन लिस्ट बनाने हेतु, प्रपत्र- 3 ब्लाक की रिर्पोटिंग हेतु तथा प्रपत्र – 4 जिले की रिर्पोटिंग हेतु प्रयोग में लाया जाएगा (समस्त प्रपत्र 19 एवं 20 जनवरी 2022 को प्रशिक्षण के दौरान उपलब्ध कराये जायेंगे)।
व्यस्त चौराहों पर पुलिस तथा मजिस्ट्रेट के वाहनों से माइकोफोन द्वारा लोगों को भीड़ न लगाने एवं सोशल डिस्टेन्सिंग का पालन करने हेतु सतर्क किया जाए। उपरोक्त निर्देशों का कड़ाई से अनुपालन सुनिश्चित कराया जाए।

Comments are closed.