पूर्वी दिल्ली : स्पेशल स्टाफ की टीम ने हाई प्रोफाइल ड्रग रैकेट का किया भंडाफोड़ चार तस्करों को किया गिरफ्तार

रिपोर्ट : रवि डालमिया

पूर्वी दिल्ली के स्पेशल स्टाफ की टीम ने हाई प्रोफाइल ड्रग रैकेट का भंडाफोड़ किया है पुलिस ने इस गैंग में शामिल चार तस्करों को गिरफ्तार किया है गिरफ्तार तस्कर में इंटरस्टेट बॉडीबिल्डर चैंपियन वकील ग्रेजुएट और छात्र शामिल हैं इनके पास से 12 सौ ग्राम फाइन क्वालिटी का चरस बरामद हुआ है जिसकी अंतरराष्ट्रीय बाजार में कीमत 960000 बताई जा रही है डीसीपी प्रियंका कश्यप ने बताया कि गिरफ्तार आरोपी की पहचान प्रिया एनक्लेव निवासी अंकित अय्यर उसका भाई दानिश नियर कृष्णानगर निवासी गौरव और मनीष शर्मा शामिल है।

जिसकी अंतरराष्ट्रीय बाजार में कीमत 960000

स्पेशल स्टाफ के एसीपी सुनील कुमार ,इंस्पेक्टर सतेन्द्र खारी, एसआई अरविंद कुमार,निहित फोगाट, एएसआई अमित कुमार, प्रमोद महेश अमरपाल ऋषि पाल हेड कांस्टेबल महिंदर,कॉन्स्टेबल सनी जितेंद्र निखिल और रवि टीम को सूचना मिली थी कि हाई प्रोफाइल ड्रग तस्कर चरस की डिलीवरी देने के लिए कल्याण पुरी थाना क्षेत्र में आने वाला है जिसके बाद ट्रैप लगाकर चिल्ला नोएडा रोड पर टाटा अल्टरोज कार से जा रहे सभी ड्रग तस्कर को गिरफ्तार कर लिया गया इनके पास से 12 सौ ग्राम फाइन क्वालिटी का चरस बरामद हुआ जिसकी अंतरराष्ट्रीय बाजार में कीमत 960000 बताई जा रही है।

12 सौ ग्राम फाइन क्वालिटी का चरस बरामद

पूछताछ में पता चला कि अंकित अय्यर इग्नू से ग्रेजुएशन कर रहा है वह अपने भाई और साथियों के साथ हिमाचल प्रदेश से चरस लाकर दिल्ली में सप्लाई किया करता था दानिश अय्यर आईपी यूनिवर्सिटी के महाराजा अग्रसेन कॉलेज वह एक बीपीओ में काम करता था नौकरी चली जाने के बाद वह अपने भाई अंकित अय्यर के साथ मिलकर ट्रक तस्करी करने लगा गौरव मेवाड़ कॉलेज ऑफ लॉ से एलएलबी कर चुका है इसके साथ ही मनीष शर्मा स्टेट लेवल का बॉडीबिल्डर है साथ ही वो जिम ट्रेनर के तौर पर काम करता था कोरोना की वजह से उसकी जॉब चली गई और वह अंकित पाल के साथ मिलकर तस्करी करने लगा।

Comments are closed.