पूर्वी दिल्ली : स्वामी दयानंद अस्पताल के गेट के बाहर सफाई कर्मचारियों का विशाल धरना प्रदर्शन

 

रिपोर्ट : रवि डालमिया

स्वामी दयानंद अस्पताल के गेट के बाहर सफाई कर्मचारियों का विशाल धरना प्रदर्शन सफाई कर्मचारियों ने कमिश्नर मेयर और बीजेपी के खिलाफ किया विशाल धरना प्रदर्शन हाय हाय के लगाए नारे स्वामी दयानंद अस्पताल के 170 कर्मचारियों को नौकरी से निकालने के चलते किया गया प्रदर्शन कड़ी धूप में नौकरी से निकाली गई महिलाओं ने अपने छोटे-छोटे बच्चों को हाथ में लेकर सड़क पर बैठ कर किया प्रदर्शन कुछ महिलाएं कड़ी धूप में बैठकर हुई बेहोश।

सैकड़ों की संख्या में सफाई कर्मचारियों ने निगम के खिलाफ किया प्रदर्शन

पूर्वी दिल्ली के नगर निगम के सबसे बड़े अस्पताल स्वामी दयानंद अस्पताल के 170 कर्मचारियों को हटाए जाने को लेकर ठेकेदारी हटाओ राष्ट्रीय संयुक्त मोर्चा के तत्वाधान में एक दिवसीय सांकेतिक धरना प्रदर्शन किया गया आपको बताते चलें कि स्वामी दयानंद अस्पताल के 14 वर्षों से रेगुलर सफाई कर्मचारी और डिस्पेंसरी के 170 कर्मचारियों को नौकरी से निकाले जाने के विरोध में पूर्वी दिल्ली नगर निगम के सफाई कर्मचारियों के शिक्षा विभाग और अस्पताल में ट्रांसफर किए जाने के विरोध में प्रदर्शन किया गया इस धरना प्रदर्शन में सैकड़ों की संख्या में सफाई कर्मचारियों ने निगम के खिलाफ प्रदर्शन किया। आप तस्वीरों में स्वम् देख सकते है स्वामी दयानंद अस्पताल के मुख्य गेट पर विरोध करते हुए अस्पताल में भारी संख्या में पर्दशनकारी नारे बाजी करते हुए मेडिकल मेडिकल सुपरीटेंडेंट रजनी खेड़वाल के कार्यालय तक पहुंच गए गेट पर सिक्योरिटी ने उनको रोकने का प्रयास किया और लगाकर रोक दिया गया लेकिन बैरिकेडिंग को तोड़ते हुए सीधे एमएस ऑफिस के बाहर जमकर नारेबाजी की और एमएस की अर्थी बनाकर प्रदर्शन किया। साथ ही पूर्वी दिल्ली नगर निगम के मेयर श्याम सुंदर अग्रवाल के खिलाफ वह कमिश्नर के खिलाफ जमकर नारेबाजी की मर गया मेयर भड़वा आदि नारों के साथ प्रदर्शन किया गया इस कार्यक्रम में संजय गहलोत, राजकुमार दीघान, पूर्व कांग्रेस विधायक वीर सिंह विधान के साथ अनेकों यूनियन के नेता शामिल हुए।

मेडिकल सुपरिटेंडेंट का घेराव कर अपनी मांगे उनके समक्ष रखी

स्वामी दयानंद अस्पताल की मेडिकल सुपरिटेंडेंट रजनी खेड़वाल का इस सब को लेकर कहना था कि अस्पताल प्रशासन की तरफ से इन कर्मचारियों को नहीं हटाया गया अस्पताल प्रशासन तो चाहता है कि इन सबको नौकरी पर उन्हें लौटा दिया जाए लेकिन महापौर एवं कमिश्नर के आदेश द्वारा इनको हटाया गया है हम लिखित में मीटिंग बनाकर देने को तैयार हैं वही ठेकेदारी हटाओ राष्ट्रीय संयुक्त मोर्चा अध्यक्ष राजकुमार दीघान का कहना है कि 170 कर्मचारियों को हटाए जाने को लेकर आज ये प्रदर्शन कर रहे हैं आज समस्त लोगों ने मेडिकल सुपरिटेंडेंट का घेराव कर अपनी मांगे उनके समक्ष रखी है उन्होंने आश्वासन दिया है कि अस्पताल प्रशासन उनकी हर तरीके से संभव मदद करने को तैयार है लेकिन मेयर और कमिश्नर द्वारा आदेश पर इन सब को हटाया गया है इस प्रदर्शन के दौरान सफाई कर्मचारियों ने काले कपड़े पहन कर अपना विरोध जताया प्रदर्शन के दौरान महिलाओं ने जमकर निगम के खिलाफ प्रदर्शन किया ।

अस्पताल के 170 कर्मचारियों को नौकरी से निकाले जाने के विरोध

ठेकेदारी हटाओ राष्ट्रीय संयुक्त मोर्चा के राष्ट्रीय चेयरमैन राजकुमार धींगान का कहना था कि स्वामी दयानंद अस्पताल के 170 कर्मचारियों को नौकरी से निकाले जाने के विरोध में यह धरना प्रदर्शन किया जा रहा है साथ ही उनकी मांग है कि इन कर्मचारियों को वापस नौकरियों पर रखा जाए क्योंकि इन कर्मचारियों ने क्रोरोना काल में अपनी बेहतरीन सेवा दी थी जिसके चलते उन्हें नौकरी से हटाने का इनाम दिया गया है नगर निगम ठेकेदारी के तहत अन्य कर्मचारियों को नौकरी पर रख रही है । जिसका हम विरोध कर रहे हैं नौकरी से निकाली गई महिलाएं अपने छोटे-छोटे बच्चों को गोदी में लेकर इतनी कड़ी धूप में अपनी नौकरी के लिए प्रदर्शन करती भी नजर आई।

Comments are closed.