पूर्वी दिल्ली : मस्जिद के लाउडस्पीकर में एलान करवा कर बेचते थे चोरी के कपड़े

 

रिपोर्ट : रवि डालमिया

पूर्वी दिल्ली शाहदरा क्षेत्र के गांधीनगर इलाके में दो सगे भाई जिस दुकान पर काम करते थे उसी के आसपास रात के समय करते तो चोरी रात भर में बोरियों में माल पैक करके सुबह के समय बैटरी रिक्शा से माल को ले जाकर बस में लोड करवा कर अपने गांव मुरादाबाद के संभल ले जाते थे और वहां जाकर मस्जिद में ऐलान करवाते थे कि दिल्ली से सस्ते कपड़े बिकने के लिए आए हैं जो भी कोई इच्छुक हो वह हमसे खरीद सकता है। पुलिस ने शातिर चोरों को 1000 से ज्यादा सीसीटीवी की मदद से पहचान करके इन्हें पकड़ा इन चोरों के पकड़ सेचौंकाने वाली बात सामने आई कि दोनों आरोपी और एक और फरार आरोपी सगे भाई हैं। भाइयों में से एक कुछ साल पहले गांधी नगर इलाके में काम करता था।

दोनों ने के खिलाफ 19 अपराधिक मामलों का खुलासा

लॉकडाउन के दौरान वह चला गया और फिर चोरी करने की योजना बनाई क्योंकि उनके पास चोरी के कपड़ों को आसानी से निपटाने के लिए एक रेडीमेड बाजार यानी ग्रामीण क्षेत्र था। उन्होंने केवल गांधी नगर को निशाना बनाया क्योंकि वे अच्छी तरह से किस बाजार से वाकिफ थे और संदेह और पुलिस गश्त से बचने के लिए पहली मंजिल की दुकानों को निशाना बनाया। वे चोरी के कपड़ों को आमतौर पर स्थानीय परिधान व्यापारियों द्वारा इस्तेमाल की जाने वाली प्लास्टिक की बोरी में पैक करते थे और सुबह के समय उन्हें ले जाने के लिए एक बैटरी रिक्शा किराए पर लेते थे और सामान ढोने वाले सामान्य रिक्शा के बीच मिल जाते थे। वे चोरी के सामानों को अपने गाँव ले जाने के लिए बसों का इस्तेमाल करते थे।

मोहम्मद हबीब और रफीक के नाम की पहचान

अपने गाँव में, आरोपियों ने दिल्ली से कपड़े खरीदने का नाटक किया करते थे। आरोपियों की पहचान मोहम्मद हबीब और रफीक के नाम की पहचान हुई है और इन दोनों ने के खिलाफ 19 अपराधिक मामलों का खुलासा हुआ है जहां पर इन्होंने ऐसे ही चोरियों की वारदात को अंजाम दिया है हॉट इनके पास से चोरी का काफी माल भी बरामद हुआ है पुलिस ने मामला दर्ज कर इन दोनों को जेल भेज दिया है।

Comments are closed.