अंक सत्याग्रह की अनुमति न मिलने पर छात्राओं ने जिला मुख्यालय पर मांगी अंकों की भीख,रोकी विधायक की गाड़ी

अंक सत्याग्रह की अनुमति न मिलने पर छात्राओं ने जिला मुख्यालय पर मांगी अंकों की भीख,रोकी विधायक की गाड़ी

विधायक की गाड़ी रोक छात्राओं ने कटोरे में मांगे अंक
समर्थन में उतरी डिग्री कॉलेज की छात्राएं

रिपोर्ट: राजेश तौमर

आगरा। हाईस्कूल की मार्कशीट में अंक न मिलने से विद्यार्थियों में आक्रोश है। वह लगातार अंको की मांग कर रहे हैं। वह सांसद, विधायक तथा मंत्रियों से गुहार लगा चुके हैं। कहीं से समाधान होते न देख छात्राएं अंक सत्याग्रह की अनुमति लेने प्रशासन के पास पहुंचीं। अनुमति न मिलने पर छात्राओं ने जिला मुख्यालय पर अंको की भीख मांगी।

रोकी विधायक की गाड़ी
कलेक्ट्रेट पर विधायक पुरुषोत्तम खंडेलवाल की गाड़ी को छात्राओं ने रोक लिया। उन्होंने कटोरे में अंको की भीख मांगी। छात्राओं ने कहा कि वह मानसिक तनाव में हैं। स्कूल खुल चुके हैं लेकिन समझ नहीं आ रहा है कि 12वीं की पढ़ाई करें या दोबारा से हाई स्कूल करें। इसे लेकर वह असमंजस में हैं। कोई भी उनकी मदद नहीं कर रहा है। विधायक पुरुषोत्तम खंडेलवाल ने कहा कि इस मामले से शासन को अवगत कराया जाएगा।

छात्राओं से बचते नजर आए लोग

जिला मुख्यालय पर आने वाली नेताओं, अफसरों तथा अन्य प्रशासनिक अधिकारियों की गाड़ी को छात्राएं रोककर उनसे अंकों की भीख मांग रही थीं। आने वाली गाड़ी छात्राओं से बचती दिखीं लेकिन छात्राएं गाड़ियों को घेर लेती और उनसे अंकों की भीख मांगने लगती।

शासन स्तर का है मामला

जब छात्राएं एडीएम सिटी अंजनी कुमार से मिली तो उन्होंने कहा कि इस तरह गर्मी में पसीना बहाने से कुछ नहीं होगा। प्रशासन स्तर से कोई मदद नहीं हो सकती है। इस समस्या का समाधान शासन स्तर से ही हो सकेगा। उन्होंने अंक सत्याग्रह की अनुमति देने से सीधे इंकार कर दिया।

संकट में विद्यार्थियों का भविष्य

अंक दिलाने के लिए विद्यार्थियों के साथ संघर्ष कर रहे चाइल्ड राइट्स एक्टिविस्ट नरेश पारस का कहना है कि बोर्ड ने विद्यार्थियों का भविष्य खराब कर दिया है। बिना अंकों के वह मेरिट सूची से पिछड़ जाएंगे। गलती स्कूल की हो या बोर्ड की विद्यार्थियों को अंक मिलना जरूरी है। इसके लिए आंदोलन लगातार जारी रहेगा। स्थानीय स्तर पर नहीं सुनी गई तो लखनऊ स्थित मुख्यमंत्री आवास पर विद्यार्थियों की आवाज बुलंद की जाएगी।

समर्थन में आई डिग्री कॉलेज की छात्राएं

छात्राओं के आंदोलन में साथ देने के लिए बैकुंठी देवी महाविद्यालय की छात्राएं भी साथ आ गई हैं। अंक सत्याग्रह की अनुमति लेने के लिए डिग्री कॉलेज की छात्राएं भी उनके साथ थीं। इनमें दीक्षा भारद्वाज, खुशी जैन, शालू और महिमा के साथ-साथ अनुमति मांगने गई छात्राओं में दिव्या सिंह, चीनी विमल, खुशबू, अनन्या, सुमन, पूजा, प्रियंका, कोमल, मुस्कान, रंजना, कल्पना, रुचि, कविता, राधा, अंजलि, खुशी आदि छात्राएं शामिल रहीं।

Comments are closed.