गर्भवती महिलाओं के लिए अस्पतालों में बेड की व्यवस्था सुनिश्चित करें राज्य सरकार : राष्ट्रीय महिला आयोग

 -नोएडा में गर्भवती महिला ने सड़क पर बच्चे को दिया जन्म, आयोग ने लिया संज्ञान

नई दिल्ली, 8 जून (TSN)। नोवल कोरोनावायरस रोग (कोविड)-19 ने देशभर में गर्भवती महिलाओं की मुश्किलें बढ़ा दी है। कोविड के कारण जहां संक्रमितों की संख्या बढ़ती जा रही है। वहीं, अन्य बीमारियों से पीड़ित मरीजों के साथ गर्भवती महिलाओं को अस्पतालों में समय पर बेड नहीं मिल पा रहे हैं।
ताजा मामला उत्तरप्रदेश के नोएडा जिले का है जहां एक गर्भवती महिला को अस्पताल में जगह नहीं मिलने के कारण सड़क पर ही बच्चे को जन्म देना पड़ा। बच्चा मरा पैदा हुआ। इस घटना का राष्ट्रीय महिला आयोग ने संज्ञान लिया है और राज्य सरकारों को अस्पतालों में गर्भवती महिलाओं के लिए बेड सुनिश्चित करने को कहा है।
राष्ट्रीय महिला आयोग की अध्यक्ष रेखा शर्मा ने कहा कि राज्य सरकारों को सभी अस्पतालों में गर्भवती महिलाओं के इलाज व बेड की व्यवस्था करनी चाहिए। अस्पतालों में बेड की कमी के कारण किसी भी गर्भवती महिला की डिलीवरी सड़क पर होना न सिर्फ शर्मनाक बल्कि चिंताजनक स्थिति भी है। इस संबंध में आयोग ने केन्द्रीय स्वास्थ्य एंव परिवार कल्याण मंत्री डॉ. हर्षवर्धन को भी पत्र लिखा है। सभी अस्पतालों को इस संबंध में स्पष्ट दिशा-निर्देश जारी होने चाहिए।

Leave A Reply