इंडो‍नेशिया ने पॉम ऑयल के निर्यात पर लगाया बैन, भारत पर होगा बड़ा असर!

भारत, इंडोनेशिया से ही अपनी जरूरत का अधिकतर पॉम ऑयल आयात करता है.

कल, यानी 28 अप्रैल से पॉम ऑयल और इससे जुड़े कच्‍चे माल के निर्यात पर पॉम ऑयल (Palm Oil) का सबसे बड़ा उत्‍पादक देश इंडो‍नेशिया प्रतिबंध (Palm Oil Exports Ban) लगा देगा. इंडोनेशिया ने अपने घरेलू बाजार में पॉम ऑयल (Palm Oil Price) की कीमतों में हो रही बढ़ोतरी को देखते हुए यह कदम उठाया है. पॉम ऑयल का निर्यात बैन होने से इसका सबसे ज्‍यादा असर भारत पर होगा, क्‍योंकि भारत, इंडोनेशिया से ही अपनी जरूरत का अधिकतर पॉम ऑयल आयात करता है.

वहीं, इं‍डोनेशिया ने अब स्‍पष्‍ट किया है कि निर्यात बैन केवल रिफाइंड, ब्लीच्‍ड डिओडोराइज्‍ड पॉमोलेन (RBD) पर ही लगाया गया है. इंडोनेशिया क्रूड पॉम ऑयल (CPO) और अन्‍य डैरिवेटिव उत्‍पादों का निर्यात जारी रखेगा. भारत में खाद्य तेलों के भाव (Edible Oil Price) इंडो‍नेशिया के पॉम ऑयल पर निर्यात पर बैन की खबर आने से ही तेज हो गए हैं. वहीं, आने वाले समय में ये 10 फीसदी तक और तेज होने की आशंका है. यह आशंका सॉल्‍वेंट एक्‍सट्रेक्‍टर्स एसोसिएशन ऑफ इंडिया ने जताई है.

एक रिपोर्ट के अनुसार, भारत अपनी खपत का करीब आधा पॉम ऑयल इं‍डोनेशिया से खरीदता है. भारत की मासिक पॉम ऑयल खपत 700,000 टन है. भारत ने इस साल मार्च में इंडो‍नेशिया से 207,362 टन पॉम ऑयल आयात किया था, जिसमें 145,696 टन आरबीडी पॉमोलेन था. मार्च में भारत का कुल पॉम ऑयल आयात 539,793 टन रहा.

Comments are closed.