इटावा: ब्लाक प्रमुख के गैगस्टर पति की 1 करोड 10 लाख 40 हजार के आठ वाहनो को किया गया जब्त

गैगस्टर एक्ट की धारा 14(1) की कार्यवाही हेतु रिपोर्ट प्रेषित की गयी थी ।

नीलकमल

इटावा: उत्तर प्रदेश के इटावा जिले की चकरनगर पुलिस ने गैंगस्टर शिव किशोर यादव की एक करोड़ 10 लाख 40 हजार के 8 वाहनों को जब्त कर लिया गया है ।
इटावा के एसएसपी जयप्रकाश सिंह ने बताया कि इटावा पुलिस ने उत्तर प्रदेश गिरोह बंद एवं समाज विरोधी क्रियाकलाप कारित कर धन एवं संपत्ति अर्जित करने वाले गैंगस्टर शिवकिशोर यादव के विरुद्ध 14(1) उत्तर प्रदेश गिरोह बंद एवं समाज विरोधी क्रियाकलाप निवारण अधि0 के अन्तर्गत कार्यवाही करते हुए लगभग एक करोड दस लाख चालीस हजार रुपये के वाहनों को जब्त किया गया ।
वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक इटावा के निर्देशानुसार अपराध एवं अपराधियों के विरुद्ध निरोधात्मक कार्यवाही करने हेतु दिये गये निर्देंशो के क्रम में प्रभारी निरीक्षक थाना चकरनगर ने गिरोह बनाकर फर्जी तरीके से समाज विरोधी कार्य कर धन एवं संपत्ति अर्जित करने वाले गैगस्टर शिवकिशोर ने 9 जून को इटावा की अदालत में पुलिस के भारी दबाब के कराण आत्मसमर्पण कर दिया था । विवेचना के दौरान जानकारी हुई कि गैंगस्टर ने अपराध एवं समाज विरोधी कार्य कर काफी चल एवं अचल संपत्ति अर्जित की गई है। जिसके तहत उसके विरूद्व गैगस्टर एक्ट की धारा 14(1) की कार्यवाही हेतु रिपोर्ट प्रेषित की गयी थी ।

जिलाधिकारी अवनीश कुमार राय ने 14 जून को शिवकिशोर की संपत्ति को जब्त करने के आदेश निर्गत किये गये थे। जिसमे नियामनुसार मुनादी करायी गई एवं उसकी संपत्ति पर नोटिस चस्पा किया गये। इसी क्रम में कार्यवाही करते हुए 27 जून को थाना चकरनगर एवं थाना बिठौली पुलिस द्वारा भारी पुलिस बल के साथ अभियुक्त द्वारा अपराध कारित करके एवं अवैध रुप थाना चकरनगर क्षेत्र में बनाये गये मकान का जब्तीकरण किया गया था। इसी कड़ी में इटावा पुलिस की टीम ने एक करोड 10 लाख 40 हजार रूपये  कीमत की 3 कार, 5 ट्रक को जब्त किया गया।
26 अप्रैल को चकरनगर उप जिला अधिकारी मलखान सिंह को सात ट्रक अवैध मौरम के सीज करने पर शिव किशोर यादव ने कार्यालय में जाकर धमकाया था।
धमकाने के साथ-साथ अवैध खनन में मुकदमा दर्ज कर माफिया के विरुद्ध उत्तर प्रदेश मध्य प्रदेश में दर्ज अवैध खनन,वाहन चोरी, गुंडागर्दी, आदि के संगीन दर्जनों मुकदमे दर्ज होने के चलते पुलिस ने माफिया व छोटे भाई ब्रजकिशोर को गैंगस्टर में निरुद्ध कर जेल में डाल दिया।
समाज विरोधी क्रियाकलापों से अर्जित की गई चल अचल संपत्ति जिला अधिकारी अवनीश कुमार राय ने राज्य हित में जप्त करने का आदेश जारी कर दिया जिसके चलते पुलिस ने शिव किशोर के अलावा उसके छोटे भाई बृज किशोर यादव मां मृतक माया देवी ब्लाक प्रमुख पत्नी सुनीता देवी के नाम अल्पसमय में चार करोड़ 21 लाख से अधिक की संपत्ति को अर्जित कर लिया।

शिव किशोर यादव ने चंबल क्षेत्र में बहन, पत्नी के नाम से क्षेत्र पंचायत की दोबारा सत्ता हासिल कर माफिया बन गया। वर्ष 2016 में थाना क्षेत्र के सिरसा गांव निवासी अपनी मुंह बोली बहन सुशीला देवी को क्षेत्रीय राजनेताओं पर भारी पड़ते हुए समाजवादी पार्टी से टिकट दिला कर ब्लॉक प्रमुख बना दिया ।

वर्ष 2021 के चुनाव में पुलिस की किलेबंदी के बीच भाजपा प्रत्याशी के काफिले पर नामांकन के दौरान गोलीबारी कर प्रत्याशी को भयभीत कर क्षेत्र के ग्राम पंचायत सदस्यों को धनबल, बाहुबल से अगवा करके अपने पक्ष में एकतरफा चुनाव कराकर पत्नी सुनीता देवी को क्षेत्र पंचायत की कुर्सी पर बैठा दिया ।
शिव किशोर जहां राजनीति व प्रशासनिक सिस्टम को मुठ्ठी में रखने की सेटिंग लगाता है तो छोटा भाई ब्रजकिशोर मोरम का कारोबार, ट्रकों का संचालन, मोरम बाजारों में पहुंचाना, पैसा कलेक्शन करने का काम देखता था। शिवकिशोर के खिलाफ उत्तर प्रदेश,मध्य प्रदेश के थानों में अवैध खनन, चोरी, गुंडागर्दी, सरकारी कर्मचारियों से मारपीट के दर्जनों मुकदमे दर्ज हैं। वर्ष 2008-09 में इटावा शहर के अंदर कार चोरी करने पर सिविल लाइन थाने में मामला दर्ज किया गया। वर्ष 2019-20 में थाना बकेवर के अंतर्गत मोरम के ट्रक पकड़े जाने पर छोटे भाई ब्रजकिशोर के विरुद्ध एआरटीओ से मामला दर्ज किया गया। 2021 के ब्लाक प्रमुख चुनाव में भाजपा प्रत्याशी के पति राकेश यादव के काफिले पर हमला करने पर चकरनगर थाने में 147,148,307 विभिन्न धाराओं में मामला दर्ज कराया गया। वर्ष 2019 निवर्तमान ब्लाक प्रमुख पति मुकेश राजावत पर हनुमंतपुरा चौराहे पर जानलेवा हमले पर करने में सहसो थाने में 323, 504, 506, 307 दर्ज किया गया था।

Comments are closed.