इटावा: हेड कॉन्स्टेबल ने सरकारी रायफल से खुद को गोली मार कर की आत्महत्या

हेड कॉन्स्टेबल प्रेम प्रकाश ने सरकारी रायफल ने खुद को गोली मार ली

नीलकमल

इटावा: ऊसराहार थाना क्षेत्र के अंतर्गत ताखा तहसील में तैनात सिपाही ने सरकारी रायफल से खुद को गोली मार कर आत्महत्या कर ली।जनपद के थाना क्षेत्र ऊसराहार अंतर्गत ताखा तहसील की सुरक्षा में तैनात एटा जनपद के नगला केवल निवासी 40 वर्षीय हेड कॉन्स्टेबल प्रेम प्रकाश ने अपने कमरे में खुद को गोली मारकर अपनी जीवन लीला समाप्त कर ली। ऊसराहार थाना क्षेत्र की ताखा तहसील में तैनात हेड कॉन्स्टेबल प्रेम प्रकाश ने सरकारी रायफल ने खुद को गोली मार ली। गोली की आवाज़ सुनकर बगल के कमरे सो रहे सिपाही रफीक अहमद ने प्रेम सिंह के कमरे की ओर गया उसे खून से लथपथ देखा। इसके बाद उसने इस घटना की पूरी जानकारी थाना ऊसराहार पुलिस को दी। सूचना मिलते ही थाना प्रभारी गंगादास गौतम ने घटना स्थल पर पहुंचकर 108 एंबुलेंस के माध्यम से सिपाही को सैफई पीजीआई के लिए पहुंचाया। जहां सिपाही को डॉक्टरों ने मृत घोषित कर दिया। घटना की सूचना मिलते है एसएसपी जय प्रकाश सिंह, अपर पुलिस अधीक्षक सत्यपाल सिंह सीओ विजय सिंह समेत कई पुलिस अधिकारी मौके पर जांच करने पहुंचे।

घटना पुष्टि करते हुए बरिष्ठ पुलिस अधीक्षक जय प्रकाश सिंह ने बताया कि हेड कॉन्स्टेबल प्रेम प्रकाश कुछ दिन पहले ही छुट्टी से लौटा था और उसने अपने कमरे में सरकारी रायफल से खुद को गोली मार ली। उन्होंने बताया कि मृतक हेड कॉन्स्टेबल ने पहले अपने हाथ की नस काटी और उसके बाद खुद को सरकारी रायफल से गोली मारकर आत्महत्या कर ली। उन्होंने बताया कि आत्महत्या के कारणों का खुलासा नही हो सका है जांच के स्तिथि स्पष्ट हो सकेगी। शव का पोस्ट मार्टम करा कर पुलिस लाइन में राजकीय सम्मान के साथ प्रेम प्रकाश के शव को अंतिम संस्कार के लिये उसके परिजनों के हवाले कर दिया गया। मृतक अपने पीछे पत्नी और एक छोटी बच्ची को छोड़ गया है।  मृतक के पिता ने बताया कि प्रेम प्रकाश के सिर्फ एक बेटी थी और वह एक बेटे की इच्छा रखता था लेकिन उसके कोई बेटा नही हुआ जिसकी बजह से वो काफी परेशान रहता था। उन्होंने बताया की कई बार उसको समझाया कि बेटा बेटी एक समान होते है लेकिन वो नही मानता था और इसको लेकर अक्सर घर मे झगड़ा भी करता रहता था।

Comments are closed.