इटावा: प्रधानमंत्री मोदी करेंगे बुंदेलखंड एक्सप्रेसवे का उद्घाटन, अपर मुख्य सचिव ने किया निरीक्षण

बुंदेलखंड एक्सप्रेस वे के निर्माण कार्यों को शीघ्र पूर्ण करने के निर्देश भी दिये।

नीलकमल

इटावा: उत्तर प्रदेश के अपर प्रमुख सचिव गृह और यूपीडा के सीईओ अवनीश अवस्थी द्वारा मुख्यमंत्री के ड्रीम प्रोजैक्ट बुंदेलखंड एक्सप्रेस वे के निर्माण कार्यों का निरीक्षण कर पूर्ण एवं अपूर्ण कार्यों की जानकारी प्राप्त की। कुछ दिनों पूर्व अपर मुख्य सचिव द्वारा निरीक्षण कर निर्माण कार्यों की गति को परखा गया था। निरीक्षण के दौरान उन्होंने सम्बन्धित अधिकारियों के साथ समीक्षा बैठक कर बुंदेलखंड एक्सप्रेस वे के निर्माण कार्यों को शीघ्र पूर्ण करने के निर्देश भी दिये।

पत्रकारों से वार्ता कर जानकारी देते हुए बताया कि उन्हें खुशी है कि बुंदेलखंड एक्सप्रेस वे का निर्माण कार्य तेजी पूण किया जा रहा है और वह अब अन्तिम चरण में है। अभी तक बुंदेलखंड एक्सप्रेस वे के निर्माण कार्य का 97 प्रतिशत कार्य पूर्ण हो चुका है। उन्होने बताया कि जो भी कार्य अवशेष है, 04 जुलाई, 2022 तक उसे पूर्ण करने के निर्देश सम्बन्धित अधिकरियों को दिये गये है। उन्होंने सम्भावना व्यक्त करते हुए कहा कि सम्भवतः जुलाई माह के द्वितीय सप्ताह में देश के माननीय प्रधानमंत्री जी के कर कमलों द्वारा बुंदेलखंड एक्सप्रेस वे का लोकार्पण किया जायेगा।

उन्होने बताया कि बुंदेलखंड एक्सप्रेस वे, बुन्देलखंण्ड का सबसे बडा प्रोजेक्ट है। जो कि रिकार्ड समय में पूर्ण कर लिया जायेगा। कार्यों में और तेजी लाने के लिए कार्मिकों की संख्या बढा दी गई है। टोल प्लाजा का कार्य भी लगभग पूर्ण हो चुका है। उन्होने कहा कि यह एक्सप्रेस वे प्रदेश के चित्रकूट जनपद के अन्त तक जा रहा है, जिससे न केवल प्रदेश की जनता लाभान्वित होगी बल्कि अन्य राज्यों को भी इसका लाभ मिलेगा। इसके बनने से इलाके का विकास होगा और दिल्ली और आगरा से चित्रकूट के बीच दूरी घटकर आधे से भी कम हो जाएगी। उन्होने यह भी कहा कि इस एक्सप्रेस वे से न केवल आमजन को आवागमन की सुविधा मिलेगी, बल्कि प्रदेश के पर्यटन और उद्योग क्षेत्र का भी विकास होगी। बताते चले कि बुंदेलखंड एक्सप्रेस वे उत्तरप्रदेश के दूसरी बार मुख्यमंत्री बने योगी आदित्यनाथ का ड्रीम प्रोजेक्ट है। इसका शुभारंभ योगी 01 सरकार में दिसम्बर में होना था लेकिन कार्य पूर्ण ने होने की बजह से उसका शुभारंभ नही हो सका। अब जबकि योगी 02 सरकार बन चुकी है ऐसे में अधिकारी जल्द से जल्द कार्य पूरा करने में जुट गए है। बुंदेलखंड एक्सप्रेसवे के शुरू हो जाने के बाद बुंदेलखंड के पिछड़े इलाकों को इसका लाभ तो मिलेगा ही साथ दिल्ली और आगरा से चित्रकूट के बीच की दूरी घटकर आधे से भी कम हो गई है, पहले इटावा से चित्रकूट जाने में 7 घंटे का समय लगता था लेकिन इस एक्सप्रेस वे के शुरू हो जाने के बाद मात्र 3 घण्टे में इटावा से चित्रकूट पहुँचा जा सकेगा। इसके साथ ही एक्सप्रेस वे के किनारे औद्योगिक विकास होगा जिससे रोजगार के अवसर पैदा होंगे।
निरीक्षण के दौरान कानपुर जोन के अपर पुलिस महानिदेशक भानु भाष्कर, जिलाधिकारी अविनाश राय, वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक जय प्रकाश सिंह सहित कार्यदायी संस्था के अधिकारी और कर्मचारी आदि उपस्थित रहे।

Comments are closed.