इटावा: सड़क सुरक्षा समिति की प्रथम बैठक सम्पन्न

परिवहन विभाग के अधिकारी इस सम्बन्ध में अधिक से अधिक वाहनों पर प्रवर्तन कार्यवाही करना सुनिश्चित करें।

नीलकमल

इटावा: जिला सड़क सुरक्षा समिति की प्रथम बैठक जिला कलेक्ट्रेट सभागार में अपर जिलाधिकारी जयप्रकाश की अध्यक्षता में सम्पन्न हुई। सड़क सुरक्षा में पूर्व में हुई बैठक की अनुपालन आख्या से अवगत कराया गया। एन. एच.-2 पर हर दूसरे दिन हो रही दुर्घटनाओं पर चिन्ता व्यक्त करते हुये रोकने के लिये दुर्घटना के कारणों की समीक्षा कर एन.एच.-2 के अधिकारियों को निर्देश दिये गये कि एन.एच.-2 पर जितने भी अनाधिकृत कट स्थानीय जनता के द्वारा बना दिये गये है समस्त अनाधिकृत कटों को तत्काल बन्द किया जाये। यदि कोई एन.एच.-2 पर कोई अनाधिकृत कट बनाता है तो एन.एच.-2 के अधिकारियों द्वारा एफ. आई. आर कर कार्यवाही की जाये। एन.एच.-2 दुर्घटना बाहुल्य क्षेत्रों एवं जहाँ पर अधिक दुर्घटनाए हो रही है वहाँ यातायात चिन्हों का लगाया जाये तथा ऐसे स्थानों पर स्पीड लिमिट के चिन्ह भी लगाये जाये। दुर्घटना की सूचना देने वाले व्यक्ति गुड सेमेरिटन (नेक व्यक्ति) की सूचना पुलिस विभाग एवं चिकित्सा विभाग से प्राप्त पुरस्कार हेतु शासन में यथाशीघ्र प्रेषित किया जाये जिससे इस प्रोत्साहन राशि से जनसामान्य में व्यापक प्रचार-प्रसार हो सकें। साथ ही साथ जनसामान्य में भी गुड सेमेरिटन के बार में अध्याधिक व्यापक प्रचार-प्रसार की आवश्यकता है जिससे दुर्घटना में घायल अधिक से अधिक व्यक्तियों की जान बचाई जा सकें। नये चिन्हित ब्लैक स्पॉट के सम्बन्ध में अध्यक्ष द्वारा यह निर्देश दिया गया कि पुलिस, परिवहन, पी.डब्लू डी के अधिकारी चिन्हित स्थानों का स्थलीय परीक्षण किया जाए यथाशीघ्र प्रेषित किया जाये। परिवहन निगम की बसों से होने वाली दुर्घटना से प्रभावित व्यक्ति को सहायता राशि के सम्बन्ध में शीघ्र जाँच की कार्यवाही पूर्ण कर यथाशीघ्र सहायता राशि उपलब्ध कराया जाये। ध्वनि प्रदूषण के सम्बन्ध में अध्यक्ष महोदय द्वारा निर्देश दिया गया कि नगर के अन्दर हॉस्पीटल, न्यायालय परिसर एवं सरकारी भवनों के पास के रोड को साइलेन्ट जोन चिन्हित किया जाये तथा ध्वनि निषेध से सम्बन्धित यातायात चिन्हों को लगाया जाये साथ ही साथ पुलिस एवं परिवहन विभाग के अधिकारी इस सम्बन्ध में अधिक से अधिक वाहनों पर प्रवर्तन कार्यवाही करना सुनिश्चित करें।

जिला विद्यालय परिवहनयान सुरक्षा समिति की द्वितीय बैठक में अध्यक्ष द्वारा जिला विद्यालय निरीक्षण एवं जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी को यह निर्देश दिये गये कि जिन विद्यालयों में विद्यालय परिवहन सुरक्षा समिति की बैठक नहीं हुई है उनकी प्रत्येक दशा में माह जुलाई प्रथम सप्ताह में करा लें। साथ ही साथ समस्त प्रधानाचार्य / प्रबन्धक समस्त चालकों का डी०एल० एवं चरित्र सत्यापन शत-प्रतिशत कराना सुनिश्चित करें जिन स्कूलीवाहनों का ए०आर०टी०ओ० कार्यालय द्वारा पंजीयन निलम्बित कर दिया गया है किसी भी दशा में संचालित न हो। यदि संचालित होते है तो वाहन के साथ-साथ स्कूलों के विरूद्ध भी विधिक कार्यवाही की जाये। यदि किसी भी स्कूल / कालेज में एल. पी. जी. फिटिड वाहने बच्चों के लाने व ले जाने में प्रयोग एवं 18 वर्ष से कम उम्र के विद्यार्थी मोटरसाइकिल एवं स्कूटी से आने पर शत प्रतिशत प्रतिबन्धित किया जाये। जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी एवं जिला विद्यालय निरीक्षक ऐसे स्कूल के विरूद्ध विधिक कार्यवाही करें। जिला स्तर पर गठित कमेटी द्वारा निर्धारित अनुरक्षण व्यय से अधिक किसी स्कूल / कालेज द्वारा द्वारा स्कूल बस से वाहन की फीस न ले। बैठक में भगवान दास मुख्य चिकित्सा अधिकारी, राजू राणा, जिला विद्यालय निरीक्षक, उमानाथ जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी, डी.एम. सक्सेना सहायक क्षेत्रीय प्रबन्धक परिवहन निगम इटावा, मातादीन जिला सूचना अधिकारी, राजकुमार, टी.एस.आई. उपस्थित रहे।

Comments are closed.