जहांगीरपुरी में शोभायात्रा पर गोली चलाने वाले असलम समेत 14 लोग अबतक गिरफ्तार

8 पुलिसकर्मियों समेत करीब 9 लोग इस हिंसा में घायल भी हुए

दिल्ली के जहांगीरपुरी में हुए हिंसा में नया खुलासा हुआ है. उपद्रवियों ने हिंसा के दौरान गोली भी चलाई थी, जो एक एएसआई को लगी. बताया जा रहा है कि असलम नाम के शख्स ने ये गोली चलाई थी, जिससे पिस्तौल भी बरामद की गई है. बता दें कल हनुमान जयंती के मौके पर निकाली जा रही शोभायात्रा पर पथराव और आगजनी की गई थी. 8 पुलिसकर्मियों समेत करीब 9 लोग इस हिंसा में घायल भी हुए. हिंसा के आरोप में असमल समेत अबतक 14 लोगों की गिरफ्तारी हो चुकी है. 

FIR की कॉपी के मुताबिक शोभा यात्रा जब जहांगीरपुर के सी ब्लॉक में जामा मस्जिद के पास पहुंची तो अंसार नाम का एक आदमी अपने चार-पांच साथियों के साथ पहुंचा और शोभा यात्रा में शामिल लोगों से बहस करने लगा. इसके बाद से ही विवाद बढ़ गया और पत्थरबाजी शुरू हो गई. बड़ी खबर ये है कि जिन 15 लोगों की गिरफ्तारी हुई है उसमें अंसार भी शामिल है.

FIR में क्या लिखा है?

शोभा यात्रा शाम 6 बजे जहांगीरपुरी के जामा मस्जिद पहुंची.

अंसार नाम का आदमी 4-5 साथियों के साथ पहुंचा.

शोभा यात्रा में शामिल लोगों से अंसार ने बहस की.

झगड़ा बढ़ा और पत्थरबाजी शुरू हो गई.

हिंसा काबू करने के लिए 40-50 आंसू गैस के गोले छोड़े गए.

भीड़ की तरफ से फायरिंग भी की गई.

गोली लगने से SI मेदालाल जख्मी हो गए.

फायरिंग, पथराव कर सांप्रदायिक दंगा किया गया.

पुलिस सूत्रों के अनुसार अंसार पर पहले से भी आपराधिक मामले दर्ज हैं. एफआईआर में लिखा गया है कि शोभायात्रा शांतिपूर्ण निकाली जा रही थी और बहस के बाद उस पर पथराव किया गया. पथराव दोनों तरफ से हुआ.

 

Comments are closed.