गोलीबारी में बदमाश और एक ग्रामीण की मौत

जारचा थाना क्षेत्र के खुर्शीदपुरा गांव में भैंस चोरी के लिए आए थे बदमाश

ग्रेटर नोएडा। पुलिस की लापरवाही एक ग्रामीण की जान पर भारी पड़ गई। शनिवार की रात जारचा थाना क्षेत्र के खुर्शीदपुरा गांव में पशु चोरों और ग्रामीणों के बीच हुई गोलीबारी में दो लोगों की मौत हो गई। इनमें एक ग्रामीण शामिल है। घटना से गुस्साए ग्रामीणों ने हंगामा शुरू कर दिया। सूचना पाकर मौके पर पहुंचे एसएसपी वैभव कृष्ण ने लोगों को किसी तरह शांत किया। एसएसपी ने ग्रामीणों के लापरवाही संबंधी आरोप को प्रथमदृष्टया सही पाए जाने पर जारचा थाने के उप-निरीक्षक सुभाष चंद को लाइन हाजिर कर दिया है।

जानकारी के मुताबिक जारचा थाना क्षेत्र के खुर्शीदपुरा गांव पर पशु चोरों की नजर लगी हुई है। पिछले एक पखवाड़े में बदमाशों ने दो बार गांव पर धावा बोलकर भैंसें चुरा ली। इस बात की शिकायत करने के बावजूद पुलिस ने कोई कार्रवाई नहीं की। इससे चोरों के हौसले बढ़ गए। शनिवार की देर रात कुछ बदमाश गांव में आए और भैंस चोरी कर जाने लगे। उसी बीच, कुछ हलचल होने से भैंस मालिक की नींद खुल गई। शोर मचाने पर गांव के दूसरे लोग भी आ गए और चोरों की घेराबंदी कर दी। अपने को घिरा देखकर चोरों ने फायरिंग कर दी। जवाब में ग्रामीणों ने भी गोलियां चलाईं। इस गोलीबारी में भैंस चुराने आए एक बदमाश की ठौर मौत हो गई। जबकि 59 वर्षीय रतन सिंह पुत्र लटूर सिंह नामक ग्रामीण ने अस्पताल जाते समय रास्ते में दम तोड़ दिया। गोलीबारी में मारे गए चोरी के आरोपी की पहचान अभी नहीं हो पाई है। पुलिस ने दोनों शवों को पोस्टमार्टम के लिए भेजकर बदमाशों की तलाश शुरू कर दी है। घटना के बाद से ही गांव में तनाव व्याप्त है। इसके मद्देनजर गांव में पुलिसबल तैनात कर दिया गया है।

एसएसपी वैभव कृष्ण ने बताया कि गांव में हालात सामान्य है, लेकिन एहतियातन पुलिस बल को तैनात किया गया है। उन्होंने बताया कि मारे गए बदमाश की पहचान करने की कोशिश की जा रही है। उन्होंने भरोसा दिया बदमाशों को शीघ्र पकड़ लिया जाएगा। एसएसपी ने बताया कि ग्रामीणों ने जारचा थाने में तैनात उप-निरीक्षक सुभाष चंद पर लापरवाही का आरोप लगाया था। जांच में आरोप प्रथमदृष्टया सही पाये जाने पर उप-निरीक्षक सुभाष चंद को लाइन हाजिर कर दिया गया है।

ग्रामीणों का कहना है कि कई हफ्तों से गांव में पशु चोरी की घटनाएं हो रही हैं। बीते 15 दिनों में ही दो बार बदमाशों ने गांव से भैंस चोरी कर ली। इस बात की रिपोर्ट जारचा पुलिस को दी गई। लेकिन, पुलिस ने कोई कार्रवाई नहीं की। उसके बाद से गांव के लोगों ने खुद ही सुरक्षा करने का फैसला किया था। तभी से गांव के लोग रात को सजग रहते हैं।

Leave A Reply