जिलाधिकारी की अध्यक्षता में उ0प्र0 शिक्षक पात्रता परीक्षा को सकुशल निर्विघ्न, नकल विहीन सम्पन्न कराने के लिए केन्द्र व्यवस्थापकों एवं सेक्टर मजिस्ट्रेटों के साथ बैठक सम्पन्न

सभी सेक्टर मजिस्ट्रेट परीक्षा के पूर्व अपने केन्द्रों का भ्रमण करना सुनिश्चित करें-जिलाधिकारी।

राम बिशाल पासवान

प्रयागराज: जिलाधिकारी संजय कुमार खत्री की अध्यक्षता में गुरूवार को उ0प्र0 शिक्षक पात्रता परीक्षा। (यू0पी0टी0ई0टी0)-2021 को सकुशल निर्विघ्न, नकल विहीन सम्पन्न कराने के लिए सेण्ट एन्थोनी गल्र्स इ0का0 प्रयागराज में केन्द्रव्यवस्थापकों एवं सेक्टर मजिस्ट्रेटों की बैठक सम्पन्न हुयी। जनपद में प्रथम पाली में 183 परीक्षा केन्द्रों पर 84017 परीक्षार्थी परीक्षा देंगे तथा द्वितीय पाली में 132 परीक्षा केन्द्रों पर 59895 परीक्षार्थी परीक्षामें सम्मिलित होंगे।

परीक्षा को नकल विहीन सम्पन्न कराने के लिए प्रथम पाली में सभी 183 केन्द्रव्यवस्थापकों को अपर जिलाधिकारी (नगर) एवं जिला विद्यालय निरीक्षक प्रयागराज ने सम्बोधित करते हुए आवश्यक जानकारी एवं दिशानिर्देश दिये। द्वितीय पाली में सभी 63 सेक्टर मजिस्ट्रेटों की बैठक जिलाधिकारी महोदय प्रयागराज की अध्यक्षता एवं जिला विद्यालय निरीक्षक, प्रयागराज के संयोजकत्व में सम्पन्न हुई।

सेक्टर मजिस्ट्रेट्स को सम्बोधित करते हुए जिलाधिकारी महोदय ने कहा कि इस परीक्षा को कदाचार रहित, शान्तिपूर्ण, नकलविहीन सम्पन्न कराना शासन की शीर्ष प्राथमिकता है। शासन की मंशानुसार जिला प्रशासन परीक्षा सकुशल सम्पन्न कराने के लिए कृत संकल्प है। जिलाधिकारी महोदय ने कहा कि सभी सेक्टर मजिस्ट्रेट, सचल दस्ते निरस्तर भ्रमणशील रहेंगे। परीक्षा में किसी भी प्रकार की अनियमितता बर्दाश्त नहीं की जायेगी।

परीक्षा कार्य में जिसे जो भी दायित्व आवंटित किया गया, उसके प्रति पूरी तरह सजग रहें। सभी परीक्षा केन्द्रों पर कोविड हेल्प-डेस्क की अनिवार्य रूप से स्थापना की जाय। मास्क, थर्मल स्कैनर, आॅक्सीमीटर, सेनेटाइजर की भी पर्याप्त व्यवस्था सुनिश्चित की जायेगी। परीक्षा कार्य में लगे किसी भी अधिकारी/कर्मचारी के पास एन्ड्राॅयड मोबाइल नहीं रहेगा, मात्र केन्द्रव्यवस्थापक, पर्यवेक्षक, सेक्टर मजिस्ट्रेट एवं स्टैटिक मजिस्ट्रेट कैमरा रहित की पैड वाला मोबाइल प्रयोग कर सकेंगे। सभी परीक्षा केन्द्रों के 200 गज तक धारा 144 लागू रहेगी।

अपर जिलाधिकारी (नगर) महोदय ने सभी केन्द्रव्यवस्थापकों को बताया कि परीक्षा के एक दिन पूर्व परीक्षा सम्बन्धी समस्त कार्य पूर्ण कर लिये जाय। परीक्षार्थियों के प्रवेश के समय मुख्य द्वार पर वीडियोग्राफी होगी। प्रश्न पत्रों को खोले जाने एवं परीक्षा समाप्ति पर सीलिंग-पैकिंग की भी वीडियोग्राफी करायी जायेगी।

सभी केन्द्रों पर सी.सी.टी.वी. से अनवरत निगरानी की जायेगी। जिला विद्यालय निरीक्षक महोदय ने बताया कि सभी केन्द्रों में ऐसा कक्षा जिसमें परीक्षा नहीं है उन्हें सीलबंद रखा जायेगा। ऐसे केन्द्रव्यवस्थापक जिनके पास कक्ष निरीक्षकों की कमी हो वे तत्काल जिला विद्यालय निरीक्षक कार्यालय में मांग पत्र प्रस्तुत करेंगे, उन्हें बेसिक शिक्षा विभाग के शिक्षक उपलब्ध कराये जायेंगे।

किसी भी दशा में सम्बन्धित विद्यालय के स्टाफ के अतिरिक्त किसी को भी परीक्षा सम्बन्धी कार्य में नहीं लगाया जायेगा। परीक्षा की शुचिता बनी रहे इसके प्रति सभी सजग व सचेष्ट रहेंगे। अंत में जिला विद्यालय निरीक्षक महोदय ने सभी के प्रति आभार एवं धन्यवाद देते हुए बैठक के समापन की घोषणा की। जिला विद्यालय निरीक्षक महोदय ने बताया कि दिनांक 21.01.2022 को दोपहर 12ः00 बजे स्टेटिक मजिस्ट्रेटों की बैठक एवं 3ः00 बजे पर्यवेक्षकों की बैठक आहूक की गयी है। बैठक में अपर जिलाधिकारी (नगर), सह जिला विद्यालय निरीक्षक द्वय सहित विभिन्न विभागों के अधिकारी गण उपस्थित रहे।

Comments are closed.