किसानों ने प्राधिकरण सीईओ के समक्ष रखी समस्या, सौंपा ज्ञापन

किसानों के बच्चे दुकान और व्यवसाय कर सकें। 

नोएडा: भारतीय किसान यूनियन (भानू) के एक प्रतिनिधि मंडल ने बुधवार को नोएडा प्राधिकरण के सीईओ से मुलाकात की और समस्याओं से संबंधित एक ज्ञापन सीईओ रितु माहेश्वारी को सौंपा। भाकियू के राष्ट्रीय महासचिव बेगराज गुर्जर ने बताया ज्ञापन के जरिए बताया कि किसानों की जमीन अधिग्रहण होने से वे बेरोजगार हो गए है। इसलिए आबादी विनियमावली में संशोधन कर मिश्रित आबादी को नियमित किया जाए। जिससे किसानों के बच्चे दुकान और व्यवसाय कर सकें।

वहीं भाकियू के बीसी प्रधान ने बताया कि 1976 से 1997 तक के किसानों को आवासीय स्कीम 2011 से वंचित पात्र किसानों के लिए आने वाली सभी आवासीय स्कीम में कोटा निर्धारित किया जाए। 5 प्रतिशत के 1997 से अभी तक के सभी किसानां को 2015 से नियोजन विभाग में पेंडिंग में लंबित प्लाटों का जल्द आवंटन पत्र जारी किया जाए। गलती से जिन किसानों ने 100 प्रतिशत मुआवजा उठा लिया है उनका पहले की तरह ही 10 प्रतिशत प्रतिकर वापस जमा कराकर 5 प्रतिशत के प्लाट आवंटित किए जाए। प्राधिकरण में तृतीय और चतुर्थ श्रेणी की नौकरियों में नोएडा के किसानो के बच्चों व खेती से जुड़े आश्रितों को प्राथमिकता दी जाए। बोर्ड बैठक में पास किसानों के एजेंडे पर कार्य शुरू किया जाए। इस मौके पर भाकियू के बीसी प्रधान, लाट साहब लोहिया, सुभाष चौहान आदि मौजूद रहे।

Comments are closed.