कृषि कानूनों पर पीएम मोदी ने विपक्ष को घेरा, विरोध को बताया ‘राजनीतिक धोखाधड़ी’

तीन कृषि कानूनों (Three Farm Laws) के विरोधियों पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) ने सवाल उठाए हैं.

तीन कृषि कानूनों (Three Farm Laws) के विरोधियों पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) ने सवाल उठाए हैं. ‘किसान समर्थक’ कानूनों के विरोध को उन्होंने ‘राजनीतिक धोखाधड़ी’ बताया है. साथ ही पीएम मोदी ने दोहाराया है कि किसानों के साथ सरकार चर्चा करने के लिए तैयार है. हाल ही में दिल्ली की सीमाओं पर प्रदर्शन कर रहे किसानों को सुप्रीम कोर्ट (Supreme Court) ने राजमार्गों से हटाने के लिए सरकार से उपाय करने के लिए कहा था. जंतर-मंतर पर ‘सत्याग्रह’ की अनुमति मांग रहे किसान संगठन को शीर्ष अदालत ने फटकार लगाई थी.

पीएम मोदी ने कहा, ‘अगर आप देखें, जो लोग किसान समर्थक सुधारों का विरोध कर रहे हैं, तो आपको बौद्धिक कपट या राजनीतिक धोखाधड़ी नजर आएगी.’ उन्होंने कहा, ‘जब बात आधार, जीएसटी, कृषि कानूनों और सुरक्षा बलों को हथियार देने जैसे गंभीर मामलों पर भी ऐसी ही राजनीतिक धोखाधड़ी आप देख सकते हैं. पहले वादा करो और उसके लिए बहस करो, लेकिन बाद में बगैर किसी नैतिक सूत्र के उसी चीज का विरोध करो.’

आरोप लगाते उन्होंने कहा कि कृषि कानूनों के मौजूदा विरोधी भी पहले यही बदलाव चाहते थे. उन्होंने कहा, ‘ये वही लोग हैं, जो मुख्यमंत्रियों को ठीक वैसा ही करने के लिए कहते थे, जैसा हमारी सरकार ने किया है.

Comments are closed.