बच्ची की किलकारी से गूंजा एंबुलेंस,जच्चा बच्चा सुरक्षित

क्षेत्र के खरगसेनपुर की गर्भवती महिला का शुक्रवार की तड़के सुबह लगभग 5 बजे सुरक्षित एंबुलेंस में डिलिवरी कराई गई,

 प्रणय तिवारी

केराकत जौनपुर: क्षेत्र के खरगसेनपुर की गर्भवती महिला का शुक्रवार की तड़के सुबह लगभग 5 बजे सुरक्षित एंबुलेंस में डिलिवरी कराई गई, जच्चा बच्चा को सुरक्षित सामुदायिक केन्द्र केराकत में भर्ती कराया गया।
जानकारी के अनुसार वर्षा पत्नी आशीष की गुरुवार की आधी रात बीत जाने के बाद प्रसव पीड़ा शुरू हो गई, असहनीय दर्द देख परिजनों ने तड़के सुबह लगभग साढ़े चार बजे 102 पर फोन कर सूचना दी गई । सूचना पाकर महज 15 मिनट में पहुंची एंबुलेंस महिला को लेकर जैसे ही थानागद्दी को पार कर आगे निकल रही थी कि सकुशल गर्भवती महिला की डिलेवरी होते ही बच्ची की किलकारियों से गूंज उठी एंबुलेंस। ईएमटी जयप्रकाश ने बताया की महिला की असहनीय दर्द देख एंबुलेंस चालक संजय कुमार से सुरक्षित जगह पर गाड़ी खड़ी करने की बात कही सुरक्षित डिलिवरी होने के बाद जच्चा बच्चा को सामुदायिक केन्द्र उपचार हेतु लाया गया। एंबुलेंस में सुरक्षित डिलिवरी की क्षेत्र में चर्चा का विषय बना हुआ है।

क्षेत्र के खरगसेनपुर की गर्भवती महिला का शुक्रवार की तड़के सुबह लगभग 5 बजे सुरक्षित एंबुलेंस में डिलिवरी कराई गई, जच्चा बच्चा को सुरक्षित सामुदायिक केन्द्र केराकत में भर्ती कराया गया।
जानकारी के अनुसार वर्षा पत्नी आशीष की गुरुवार की आधी रात बीत जाने के बाद प्रसव पीड़ा शुरू हो गई, असहनीय दर्द देख परिजनों ने तड़के सुबह लगभग साढ़े चार बजे 102 पर फोन कर सूचना दी गई । सूचना पाकर महज 15 मिनट में पहुंची एंबुलेंस महिला को लेकर जैसे ही थानागद्दी को पार कर आगे निकल रही थी कि सकुशल गर्भवती महिला की डिलेवरी होते ही बच्ची की किलकारियों से गूंज उठी एंबुलेंस। ईएमटी जयप्रकाश ने बताया की महिला की असहनीय दर्द देख एंबुलेंस चालक संजय कुमार से सुरक्षित जगह पर गाड़ी खड़ी करने की बात कही सुरक्षित डिलिवरी होने के बाद जच्चा बच्चा को सामुदायिक केन्द्र उपचार हेतु लाया गया। एंबुलेंस में सुरक्षित डिलिवरी की क्षेत्र में चर्चा का विषय बना हुआ है।

Comments are closed.