लखीमपुर हिंसा मामले को लेकर राष्ट्रपति से मिला कांग्रेस प्रतिनिधिमंडल

कांग्रेस (Congress) के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी (Rahul Gandhi) की अगुवाई में पार्टी का एक प्रतिनिधिमंडल  राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद (Ramnath Kovind) से मुलाकात की.

लखीमपुर खीरी हिंसा मामले को लेकर आज कांग्रेस (Congress) के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी (Rahul Gandhi) की अगुवाई में पार्टी का एक प्रतिनिधिमंडल  राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद (Ramnath Kovind) से मुलाकात की. कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने इसके बाद संवाददाताओं से कहा कि पीड़ित चाहते हैं कि उन्हें इंसाफ मिले. उन्होंने कहा कि जिसने हत्या की है उसका पिता हिन्दुस्तान के गृह मंत्री हैं, इसीलिए वह जब तक मंत्री हैं सही न्याय नहीं मिल सकता. राहुल ने कहा कि राष्ट्रपति को हमने ये बात बताई. उन्होंने कहा कि एक परिवार की नहीं बल्कि यह पूरे हिन्दुस्तान की आवाज है. राहुल ने आगे कहा कि पिता अगर मंत्री है तो निष्पक्ष जांच कैसे होगी?

केरल के वायनाड से सांसद राहुल गांधी ने आगे कहा कि राष्ट्रपति से हमने कहा कि मंत्री को उनके पद से हटाया जाना चाहिए और सुप्रीम कोर्ट के 2 सीटिंग जज के इन्क्वायरी होनी चाहिए. गौरतलब है कि कांग्रेस प्रतिनिधिनंडल ने राष्ट्रपति को इस घटना के तथ्यों से जुड़ा एक ज्ञापन भी सौंपा. राहुल गांधी के अलावा कांग्रेस के पांच सदस्यीय प्रतिनिधिमंडल में राज्यसभा में नेता प्रतिपक्ष मल्लिकार्जुन खड़गे, वरिष्ठ नेता एके एंटनी, गुलाम नबी आजाद, लोकसभा में कांग्रेस के नेता अधीर रंजन चौधरी शामिल थे.

Comments are closed.