एलजी ने रामलीला स्थल पर ईटीपी प्लांट लगाने की शर्त को किया रद्द, कई रियायतों का भी किया ऐलान

-डीडीए सिक्योरिटी शुल्क 66 रू से घटाकर किया 15 रू वर्गमीटर, आयोजकों की सुविधा के लिए सिंगल विंडो सिस्टम शुरु करने के दिए निर्देश

नई दिल्ली। उपराज्यपाल (Lieutinent Governer) वी के सक्सेना ने दिल्ली की तमाम रामलीलाओं के लिए कई रियायतों का ऐलान किया है। इससे जहां लीला आयोजकों को लीला स्थल पर ईटीपी प्लांट लगाने की भारी भरकम शर्त से राहत मिली है। वहीं, लीला के बाबत सरकारी विभागों से अलग- अलग अनुमति लेने की भागदौड़ से निजात मिलने का रास्ता भी साफ हो गया है।

शुक्रवार को दिल्ली रामलीला महासंघ के एक प्रतिनिधिमण्डल ने अर्जुन कुमार, सांसद प्रवेश साहिब सिंह वर्मा, दिल्ली भाजपा के अध्यक्ष आदेश गुप्ता के नेतृत्व में उपराज्यपाल से मुलाकात की। महासंघ के अध्यक्ष अर्जुन कुमार के मुताबिक़ करीब पचास मिनट चली इस मीटिंग में डीडीए, एमसीडी, पीडब्लूडी और दिल्ली पुलिस सहित विभिन्न विभागो के आला अधिकारी मौजूद रहे। महासंघ के पदाधिकारियों की समस्याएं, शिकायतें और मुश्किलें सुनने के उपरांत उपराज्यपाल ने दिल्ली में होने वाली 650 से अधिक रामलीला कमेटियों के लिए कई रियायते देने का ऐलान किया।

अर्जुन कुमार के मुताबिक़ उपराज्यपाल ने राम लीला ग्राउंड में ईटीपी प्लांट नहीं लगाने की मांग को स्वीकार कर लिया है। यानी लीला कमेटियों को अब ईटीपी प्लांट लगाने के नियम से छूट मिल गई है। साथ ही इस वर्ष डीडीए की ओर से सिक्योरिटी चार्जेज में की गई बढ़ोत्तरी को भी वापस ले लिया गया है। यह शुल्क 66 रू प्रति वर्ग मीटर से घटा कर अब सिर्फ 15 रू प्रति वर्ग मीटर कर दिया गया है। साथ ही सफाई शुल्क को घटा कर 2 रू 75 पैसे प्रति वर्ग मीटर कर दिया गया है। इतना ही नही उपराज्यपाल ने ईटीपी प्लांट के लिए लीला कमेटी वालो को एकमुश्त 5 लाख रु की राशि जमा कराने के आदेश को भी रद्द कर दिया है जिससे लीला कमेटियो को बड़ी राहत मिली है।

सांसद प्रवेश वर्मा के मुताबिक उपराज्यपाल ने मीटिंग में मौजूद सभी प्रमुख सरकारी विभागों के आला अधिकारियों को निर्देश दिया कि रामलीला स्थल पर बिजली, पानी, सुरक्षा की व्यवस्था और लीला ग्राउंड में सम्पूर्ण सफाई व्यवस्था आदि के इंतजामों के लिए तुरंत ही सिंगल विंडो सिस्टम शुरू किया जाए ताकि लीला कमेटी वालो को अलग- अलग विभागो में चक्कर न लगाने पड़े।

वहीं, दिल्ली भाजपा के अध्यक्ष आदेश गुप्ता और रामलीला महासंघ के अध्यक्ष अर्जुन कुमार ने बताया कि उपराज्यपाल ने रामलीलाओ के साथ शुरू हो रहे त्यौहारों जैसे विजय दशमी, जन्माष्टमी, दिवाली, ईद आदि के अवसर पर दिल्ली वासियों को सभी सुविधाएं सुचारू रूप से प्रदान करने के लिए सभी सरकारी विभागों को आपस मे तालमेल करने का सुझाव भी दिया।

रामलीला महासंघ के इस प्रतिनिधि मण्डल में जनरल सेक्रेटरी सुभाष गोयल के अलावा कुल भूषण आहूजा, गुलशन विरमानी, महेंद्र नागपाल, धीरज गुप्ता सहित कई लीला कमेटियो के आयोजक शामिल रहे।

Comments are closed.