मैत्रेयी कॉलेज : इन्टरनेशनल सर्टिफिकेट कोर्स का सातवां माड्यूल सम्पन्न

-जूम प्लेटफॉर्म और यूट्यूब लाइव के माध्यम से इस सत्र में सैकड़ों विद्यार्थियों, शोधार्थियों एवं शिक्षकों ने लिया भाग

नई दिल्ली, (संतोष सूर्यवंशी)। दिल्ली विश्वविद्यालय के मैत्रेयी कॉलेज और अमेरिकी संस्थान इन्स्टीट्यूट ऑफ एड्वांस्ड साइंसेज के संयुक्त तत्वावधान में भारतीय भाषाओं एवं डिजिटल टूल्स पर आधारित अन्तर्राष्ट्रीय त्रैमासिक सर्टिफिकेट कोर्स का सातवां माड्यूल रविवार को सम्पन्न हो गया। इस मॉड्यूल में आमंत्रित वक्ता के रूप में मैत्रेयी महाविद्यालय के जन्तुविज्ञान विभाग में एसोसिएट प्रोफ़ेसर डॉ. ब्रोतोती रॉय ने प्रतिभागियों के साथ वर्किंग विद माइक्रोसॉफ्ट पावरप्वाइंट विषय पर अपना विचार साझा किया।

डॉ. रॉय ने प्रतिभागियों को इस तथ्य से भी अवगत कराया कि माइक्रोसॉफ्ट पावरपॉइंट के साथ काम करना कितना सहज और प्रभावशाली है। इसके साथ ही उन्होंने पठन-पाठन एवं प्रस्तुतिकरण में इसकी महत्ता को भी प्रतिपादित किया। डॉ. राय ने दर्शकों को माइक्रोसॉफ्ट पावरपॉइंट के बेसिक एवं द्वितीय स्तर की विशेषताओं और इसके अनुप्रयोगों से परिचित कराया, जिसमें पावरपॉइंट सॉफ़्टवेयर के कुछ प्रमुख उपयोग और कार्य के बारे में विस्तार से बताते हुए माइक्रोसॉफ्ट पावरपॉइंट की प्रत्येक बारीकी और विशेषता को बड़े ही सहज और सरल तरीके से प्रदर्शित किया।

डॉ. रॉय ने प्रतिभागियों को यह भी इंगित किया कि एक अच्छा पावरपॉइंट प्रेजेंटेशन बनाने में तकनीकी का विशिष्ट समायोजन आवश्यक है। गौरतलब है कि जूम प्लेटफॉर्म और यूट्यूब लाइव के माध्यम से इस सत्र में सैकड़ों प्रतिभागियों ने भाग लिया, जिसमें विद्यार्थी, शोधार्थी एवं शिक्षक तीनों ही वर्गों की प्रतिभागिता रही।

सत्र के प्रारम्भ में अंग्रेजी विभाग से डॉ. स्मृति सिंह ने प्रतिभागियों एवं आमन्त्रित वक्ता का स्वागत किया, जबकि कार्यक्रम की संयोजिका डॉ ज्योति सिंह ने धन्यवाद ज्ञापन किया। सत्र का संचालन डॉ. नूपुर चावला एवं डॉ. गीता पाण्डेय ने किया, जबकि डॉ. प्रमोद कुमार सिंह ने तकनीकी व्यवस्था एवं संयोजन का सुचारु संचालन किया।

Leave A Reply