मोहल्ला क्लीनिकों में भी शुरू किया जाएगा आयुष उपचार : सत्येंद्र जैन

-स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन से आयुष डॉक्टरों ने की मुलाकात, विभिन्न मुद्दों पर की चर्चा

नई दिल्ली। स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन से आयुष डॉक्टरों के प्रतिनिधि मंडल ने मंगलवार को मुलाकात की। स्वास्थ्य मंत्री ने उनसे विभिन्न मुद्दों पर चर्चा की। जैन ने कहा कि दवाओं के न्यूनतम उपयोग के साथ आयुष, प्राकृतिक उपचार के जरिए पोस्ट कोविड मरीजों को ठीक करने में अहम भूमिका निभाएगा। लोगों और आयुष डॉक्टरों के हित के लिए राजधानी के आसपास के चुनिंदा मोहल्ला क्लीनिकों में भी आयुष उपचार शुरू किया जाएगा। उन्होंने कोविड-19 के दौरान दिल्ली के लोगों की निःस्वार्थ सेवा करने के लिए आयुष डॉक्टरों का धन्यवाद किया।

आयुष डॉक्टरों के प्रतिनिधिमंडल ने आज स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन से मुलाकात कर कई मुद्दों पर चर्चा की। आयुष क्लीनिकों के लिए विद्युत सब्सिडी, मोहल्ला क्लीनिकों में आयुष की शुरुआत और आयुष डॉक्टरों से कोविड-19 के बीच जैव चिकित्सा अपशिष्ट संग्रह पर लगाए जा रहे 890 रुपए शुल्क की माफ़ी की मांग की।

आयुष डॉक्टरों ने बताया कि आयुष क्लीनिक छोटे हैं और बायोमेडिकल अपशिष्ट का उत्पादन नहीं करते हैं। इसलिए आयुष क्लीनिक पर लगने वाले शुल्क को माफ या कम किया जाना चाहिए। स्वास्थ्य मंत्री ने इस संबंध में संबंधित विभागों को आवश्यक दिशा निर्देश दिए हैं।

स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन ने राजधानी दिल्ली के आसपास के मोहल्ला क्लीनिकों में आयुष के माध्यम से उपचार शुरू करने की मांग को भी स्वीकार किया। उन्होंने कहा कि आयुष उपचार को शुरू करने के लिए दिल्ली क्ष के मोहल्ला क्लीनिकों का चयन किया जाएगा, जो आयुष डॉक्टरों के साथ-साथ लोगों के हित के उद्देश्य को पूरा करेगा।

सत्येंद्र जैन ने कई सुझाव भी दिए और दिल्ली के समग्र स्वास्थ्य ढांचे में विशेष रूप से कोविड के दौरान आयुष के महत्व पर बल दिया। उन्होंने कहा कि आयुष रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने और दवाओं के न्यूनतम उपयोग के साथ मरीजों को उपचार देने के अपने प्राकृतिक तरीकों के माध्यम से कोविड-19 के बाद की रिकवरी में महत्वपूर्ण भूमिका निभाएगा। स्वास्थ्य मंत्री ने ट्वीट कर कोविड महामारी के दौरान आयुष डॉक्टरों के योगदान के लिए उन्हें धन्यवाद दिया। उन्होंने ट्वीट कर कहा कि हमारे आयुष डॉक्टरों ने कोविड संकट के दौरान निःस्वार्थ भाव से हमारा सहयोग किया। मैं उन्हें कोविड-19 के दौरान दिल्ली के लोगों की निःस्वार्थ सेवा के लिए धन्यवाद करता हूं।

आयुष प्रतिनिधि मंडल ने आयुष के लिए ‘राज्य सलाहकार समिति’ बनाने का भी प्रस्ताव रखा। जिस पर स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन ने कहा कि इसे निश्चित रूप से ध्यान में रखा जाएगा। उन्होंने कहा कि दिल्ली सरकार आयुष के प्रचार और बेहतरी के लिए समर्पित है। दिल्ली सरकार लोगों के साथ-साथ आयुष डॉक्टरों का हित सुनिश्चित करने के लिए हर मुमकिन प्रयास करेगी।

Comments are closed.