नाले की दीवार के नीचे दबकर चार मजदूरों की मौत, आठ हुए घायल

नाले की दीवार के नीचे दबकर चार मजदूरों की मौत, आठ हुए घायल

नोएडा। थाना सेक्टर 20 क्षेत्र के सेक्टर 21 जलवायु विहार में मंगलवार सुबह नाले की दीवार भरभराकर गिर गई। इस बीच नाले की सफाई काम कर रहे करीब 12 मजदूर दीवार के नीचे दब गए। घटना के बाद वहां चीख पुकार मच गई। सूचना पर पहुंची पुलिस, दमकलकर्मी और प्रशासन की टीम बचाव कार्य में जुट गई। मौके पर पांच जेसीबी मशीन को बुलवाकर दीवार हटवाई गई। घायल मजदूरों अस्पताल में भर्ती कराया गया। जहां चार मजदूरों की मौत हो गई। जिनमें तीन एक ही परिवार के हैं। जबकि बाकी आठ मजदूरों का अस्पताल में उपचार चल रहा है।

जानकारी के मुताबिक सेक्टर 21 जलवायु विहार की सोसायटी की नाले की दीवार करीब 25 साल पुरानी है। नोएडा प्राधिकरण ने दीवार के पास मौजूद नाले की सफाई का ठेका दिया हुआ है। मंगलवार सुबह ठेकेदार की मौजूदगी करीब 12 मजदूर नाले की सफाई कर रहे थे। इस बीच ईट निकालने के दौरान नाले की तरफ दीवार गिर गई। जिसमें करीब 12 मजदूर दब गए। घटना के बाद वहां चीख पुकार मच गई। सूचना मिलते ही पुलिस कमिश्नर आलोक सिंह और डीएम सुहास एलवाई समेत सभी आलाधिकारी मौके पर पहुंच गए। इस बीच दमकलकर्मी की एक पूरी टीम मलबा हटाने में जुट गई। भारी दीवार के चलते मलबा नहीं हटा। इसके बाद पांच जेसीबी मशीन बुलवाई गई। जेसीबी मशीन के जरिए दीवार को हटाकर मजदूरों को निकाला गया। मजदूरों को तुरंत जिला अस्पताल और कैलाश अस्पताल ले जाया गया। जहां चार मजदूरों की मौत हो गई। जबकि घटना में आठ मजदूर घायल हुए हैं। मृतक मजदूरों की पहचान धर्मवीर, पुष्पेंद्र (25), पन्ना लाल (25) और अमित (18) हैं। पुष्पेंद्र, पन्ना और अमित एक ही परिवार के थे। तीनों बदायूं के रहने वाले थे, जबकि धर्मवीर संभल का रहने वाला था।
सीईओ बोली, मृतक के परिजनों को दिया जाएगा पांच-पांच लाख का मुआवजा |

नोएडा प्राधिकरण की सीईओ रितु माहेश्वरी ने कहा कि यह हादसा दुर्र्भाग्यपूर्ण है। हादसे में मरने वालों के परिजनों को 5-5 लाख रुपए मुआवजा मिलेगा। यह मुआवजा कॉन्ट्रैक्टर से दिलाया जाएगा। इसके अलावा इस घटना की विभागीय जांच भी कराई जाएगी। घटना में जो भी दोषी पाया जाएगा, उस पर कड़ी कार्रवाई की जाएगी।

चार साल पहले बनाई गई थी दीवार, तीन-चार दिन पहले नाले के किनारे से निकाली थी मिट्टी

जलवायु विहार आरडब्ल्यूए के अध्यक्ष एयर वाइस मार्शल प्रदीप कुमार बताया कि गेट नंबर एक की तरफ नाले से लगी सेक्टर की दीवार गिरने से हादसा हुआ है। लगभग चार साल पहले नाले की दीवार से अलग सेक्टर की दीवार बनाई गई थी। तीन चार दिन पहले कुछ लोगों ने नाले के किनारे से मिट्टी निकाल ली, जिससे सेक्टर की चाहरदिवारी की बुनियाद कमजोर हो गई। मंगलवार को नाले की सफाई करते समय दीवार गिर गई। उन्होंने घटना पर गहरा दुख जताया है।
डीएम ने दिए जांच के आदेश
डीएम सुहास एलवाई ने बताया कि नोएडा प्राधिकरण की ओर से नाले की सफाई के लिए कॉन्ट्रैक्ट दिया गया था। हादसे में चार मजदूरों की मौत हुई है। घटना की जांच के आदेश दे दिए गए हैं। आरोपी कॉन्ट्रैक्टर के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराया गया। इस पूरे मामले की प्रशासन स्थर पर जांच कराकर दोषियों को कड़ी से कड़ी सजा दी जाएगी।
मुख्यमंत्री योगी ने जताया शोक
मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने नोएडा में दीवार गिरने की दुर्घटना से हुई जनहानि पर शोक व्यक्त किया है। उन्होंने वरिष्ठ अधिकारियों को तत्काल मौके पर जाकर राहत व बचाव कार्य युद्ध स्तर पर संचालित करने और घायलों के उपचार की समुचित व्यवस्था के निर्देश दिए हैं। सीएम ने शोक संतप्त परिजनों के प्रति अपनी संवेदनाएं व्यक्त करते हुए घायलों के शीघ्र स्वास्थ्य लाभ की कामना की है।
हादसे में घायल मजदूर
1.पंकज पुत्र सोमवीर सिंह निवासी गांव बिचोला थाना मुजरिया बदायूं
2.संजीव पुत्र भगवान सिंह निवासी उपरोक्त
3. नन्हे पुत्र उरवान सिंह निवासी उपरोक्त
4. विनोद पुत्र राम सिंह निवासी उपरोक्त
5. दीपक पुत्र नरेश निवासी उपरोक्त
6. ऋषि पाल पुत्र ज्ञान सिंह निवासी गांव सॉन्ग थाना जरीफनगर संभल
7. जोगेंद्र पुत्र राजपाल निवासी बमोरी थाना सहसवान बदायूं
8. पप्पू पुत्र नेम सिंह निवासी गांव बिचोला थाना मुजरिया
—————
मृतकों के नाम
1. पुष्पेंद्र यादव पुत्र भगवान सिंह निवासी गांव बिचोला थाना मुजरिया
2. पन्नालाल यादव पुत्र झंडू यादव 89 निवासी गांव विचोला थाना मुजरिया
3. अमित यादव पुत्र धनपाल यादव निवासी गांव विचोला थाना मुजरिया बदायूं
4.धर्म वीर पुत्र रामनिवास निवासी गांव सॉन्ग थाना जरीफनगर जिला संभल
[6:49 pm, 20/09/2022] Manisha Jha: पुलिस ने इस घटना के संबंध में प्राधिकरण के दो ठेकेदारों सुंदर यादव और गुल मोहम्मद के खिलाफ आईपीसी की धाराओं 304, 337, 338 व बाल श्रम अधिनियम की धारा 14(1) के तरह मुकदमा दर्ज कर लिया है। पुलिस ने ठेकेदार गुल मोहम्मद को हिरासत में लिया है।

Comments are closed.