नरेला के आंगनवाड़ी केंद्रों में राशन घोटाला, गर्भवती महिलाओं व बच्चों को नहीं मिल रहा था तय मात्रा में राशन 

-मंत्री राजेन्द्र पाल गौतम ने सभी आंगनवाड़ी केंद्रों का ऑडिट करने का दिया आदेश, रिपोर्ट आने तक रोके सभी भुगतान 

नई दिल्ली, 11 जून (TSN)। राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में गर्भवती महिलाओं व बच्चों को पोषक आहार उपलब्ध कराने की योजना में घपला होने का मामला सामने आया है। यह मामला महिला एवं बाल विकास मंत्री राजेन्द्र पाल गौतम ने बृहस्पतिवार को औचक निरीक्षण के जरिये खुद उजागर किया। कल (बुधवार को) उन्होंने सीमापुरी विधानसभा क्षेत्र में राशन वितरण में गड़बड़ी के मामले पकड़े थे।
तय मात्रा से 85 प्रतिशत कम दिया जा रहा था राशन
दरअसल, आईसीडीएस के तहत बांटे जाने वाले राशन की मात्रा और गुणवत्ता की जांच करने के लिए मंत्री गौतम ने बृहस्पतिवार को टार्ज़न कैंप- नरेला विधान सभा, रोहिणी सेक्टर 24 जेजे कॉलोनी- बवाना विधानसभा और संजय बस्ती- तिमारपुर विधानसभा क्षेत्रों में रहने वाले लाभार्थियों के घर जाकर न सिर्फ संपर्क किया बल्कि राशन की मात्रा का निरीक्षण भी किया। इस दौरान गौतम ने पाया कि रोहिणी सेक्टर 24 जेजे कॉलोनी और संजय बस्ती में कोई अनियमितता नहीं है। मगर, नरेला में निर्धारित मात्रा का केवल 15 फीसदी राशन ही लोगों के घरों तक पहुंच रहा है।
आंगनवाड़ी केंद्रों पर कार्रवाई के आदेश जारी
राजेन्द्र पाल गौतम ने कहा कि मैंने सभी आंगनवाड़ी वितरण केंद्रों के ऑडिट के निर्देश दे दिए हैं, ताकि दोषियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जा सके। जो कोई भी दोषी पाया जाएगा, उसे बख्शा नहीं जाएगा। उन्होंने कहा कि यह कोई त्रुटि नहीं है। ऐसा लगता है कि यह जानबूझ कर किया जा रहा है। जब सरकार एक निर्धारित मात्रा में राशन उपलब्ध करवाती है, तो ऐसी अनिमियतता क्यूं? आपूर्तिकर्ता, गैर-सरकारी संगठन या कोई भी अधिकारी जों इस कार्य में दोषी पाया जाएगा, उसके ख़िलाफ़ सख़्त कार्यवाही की जाएगी। उन्होंने कहा कि जांच तक सभी भुगतान रोक दिए जाने के निर्देश दिए हैं।
बच्चों व गर्भवती महिलाओं के घर पहुंचाया जाता है राशन
 
गौरतलब है कि टेक होम राशन व्यवस्था के तहत बच्चों और गर्भवती महिलाओं को आंगनवाड़ी कार्यकर्ताओं द्वारा बच्चों को 1300 ग्राम दलिया,  260 ग्राम काले चने (कच्चे), 130 ग्राम गुड़ और 130 ग्राम भुने काले चने की मात्रा वितरित की जानी चाहिए। वहीं, गर्भवती महिलाओं को 1690 ग्राम दलिया, 260 ग्राम काले चने (कच्चे), 130 ग्राम गुड़ और 130 ग्राम भुने काले चने का वितरण किया जाना चाहिए। यह राशन 13 दिनों के अंतराल पर दिया जाता है।
Leave A Reply