निर्माणाधीन साइट पर बंधक बनाए गए 40 मजदूरों को प्रशासन ने कराया मुक्त

प्रशासन की शिकायत पर थाना सूरजपुर में बिल्डर के खिलाफ मुकदमा दर्ज

नोएडा: थाना सूरजपुर क्षेत्र के सेक्टर डेल्टा-1 में एक निर्माणाधीन साइट पर 41 मजदूरों को बंधक बनाए जाने का मामला सामने आया है। सूचना पर शुक्रवार रात जिला प्रशासन की टीम मौके पर पहुंची और मजदूरों को मुक्त कराया। देर रात ही सभी को उनके गृह राज्य मध्यप्रदेश भिजवा दिया गया है। साथ ही थाना सूरजपुर में बिल्डर के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराया गया है।
जानकारी के मुताबिक जिलाधिकारी सुहास एलवाई को कुछ दिन पहले निर्मल गौराना नाम के व्यक्ति ने शिकायत देते हुए बताया था की ग्रेटर नोएडा के सेक्टर डेल्टा-1 में मिग्सन बिल्डर की निर्माणाधीन साइट पर कई बंधुआ मजदूर काम कर रहे हैं। मजदूरों से जबरदस्ती काम करवाया जा रहा है।इस पर जांच के बाद तहसीलदार सदर यदुवंश कुमार वर्मा ने शुक्रवार रात श्रम विभाग के अधिकारियों और थाना सूरजपुर पुलिस के साथ निर्माणाधीन साइट पर पहुंचकर छापा मारा। इस दौरान तहसीलदार को मौके पर 41 बंधुआ मजदूर कार्य करते मिले। तहसीलदार सदर ने बताया कि उन्हें मौके पर 17 पुरुष, 10 महिलाएं और 14 बच्चे बंधुआ मजदूर बनकर काम कर रहे थे। उन्होंने बताया कि सभी बंधुओं मजदूरों को रेस्क्यू कर कलेक्ट्रेट लाया गया जहां पर उन्हें भोजन करवाने के बाद बस द्वारा मध्य प्रदेश के जिला छतरपुर के लिए पुलिस सुरक्षा में रवाना कर दिया गया। बंधुआ मजदूरों के रवाना होने से एसडीएम सदर प्रसून दिवेदी के सामने रेस्क्यू किये गए सभी मजदूरों  के बयान दर्ज किए गए।
सेंट्रल नोएडा एडीसीपी अंकुर अग्रवाल ने बताया कि तहसीलदार सदर यदुवंश कुमार वर्मा की तहरीर पर मिग्सन बिल्डर के मालिक सुनील मिगलानी के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया गया है। आरोपी बिल्डर की तलाश की जा रही है, जल्द ही उसे गिरफ्तार कर लिया जाएगा।

Comments are closed.