नोएडा: गौतम बुध नगर जिले में बनाए जाएंगे दो एमआरओ,अब देश में ही ठीक होंगे विमान

नोएडा: गौतम बुध नगर जिले में बनाए जाएंगे दो एमआरओ,अब देश में ही ठीक होंगे विमान

रिपोर्ट: नितिन चौधरी

गौतम बुध नगर जिले में दो एमआरओ बनाए जाएंगे इस बात की जानकारी यमुना विकास प्राधिकरण के मुख्य कार्यपालक अधिकारी डॉ अरुण सिंह ने दी जेवर में बन रहे इंटरनेशनल एयरपोर्ट के पास देश का सबसे बड़ा एमआरओ हब बनाया जाएगा पहले चरण में 40 एकड़ में एक एमआरओ बनाया जाएगा इसके अलावा दूसरे चरण में 1365 एकड़ जमीन का अधिग्रहण होगा इसमें भी एमआरओ बनाया जाएगा अभी तक देश के विमान ठीक होने के लिए दूसरे देशों में जाया करते थे

उत्तर प्रदेश के जेवर में बनने वाले इंटरनेशनल एयरपोर्ट के पास अब एक नहीं बल्कि दो एमआरओ हब बनाए जाएंगे इस बात की जानकारी यमुना विकास प्राधिकरण के मुख्य कार्यपालक अधिकारी डॉ अरुणवीर सिंह ने दी जेवर में बन रहे नोएडा इंटरनेशनल एयरपोर्ट के पास देश का सबसे बड़ा एमआरओ बनाया जा रहा है पहले चरण में 40 एकड़ में एमआरओ बनाया जा रहा है जबकि दूसरे चरण के लिए 1365 एकड़ जमीन का अधिग्रहण होगा और उसमें भी एक एमआरओ हब बनाया जाएगा अभी तक देश के बड़े विमान और एयरक्राफ्ट मरम्मत के लिए सिंगापुर और कोलंबो जैसे देश में जाया करते थे लेकिन गौतम बुध नगर में नोएडा इंटरनेशनल एयरपोर्ट के पास दो एमआरओ हब बनने के बाद देश की आत्मनिर्भरता बढ़ेगी यहां पर केवल भारत के ही नहीं बल्कि दूसरे विदेशी विमानों की भी मरम्मत की जाएगी

आपको बताते चलें कि उत्तर प्रदेश सरकार ने मंगलवार को वायु यान का मेंटेनेंस रिपेयरिंग और ओवर हिलिग की नीति को मंजूरी दे दी इसका सबसे अधिक फायदा गौतम बुध नगर जिले को मिलेगा विमानों के रखरखाव में अभी दूसरे देशों पर निर्भरता है देश में हैदराबाद और बेंगलुरु आदि शहरों में विमानों का रखरखाव होता है लेकिन यहां काम बहुत छोटे स्तर पर होता है अभी तक अधिकतर भारतीय विमानों का मेंटेनेंस सिंगापुर श्रीलंका और दूसरे यूरोपीय देशों में कराया जाता है लेकिन जेवर में हवाई अड्डा शुरू होने के साथ ही एमआरओ के मामले में भी आत्मनिर्भरता आ जाएगी

Comments are closed.