पंचायत चुनाव पर आधारित लघु फ़िल्म रामराज्य लांच

-यूपी के प्रयागराज व इटावा में हुई है लघु फ़िल्म की पूरी शूटिंग

इटावा, (नीलकमल)। पंचायत चुनाव पर आधारित लघु फ़िल्म रामराज्य बुधवार को रामनवमी के अवसर पर फ़्रेंड्स कॉलोनी में डिजिटल लॉन्च की गई। इटावा की फ़िल्म प्रोडक्शन कंपनी चम्बल सिने प्रोडक्शन द्वारा निर्मित ‘रामराज्य’ को मुख्यातिथि के रूप में उपस्थित दन्त चिकित्सक डॉ. शलभ परिहार, राष्ट्रीय कवि अवनीश त्रिपाठी, इंटरनेशनल शूटर राहुल तोमर एवं निर्माता रवीन्द्र चौहान ने रिलीज किया।

इस अवसर पर डॉ. शलभ परिहार और राष्ट्रीय कवि अवनीश त्रिपाठी ने सयुंक्त रूप से कहा ऐसी फिल्में न केवल सामाजिक समस्याओं को उठाती हैं बल्कि समाधानों को भी सामने लाती हैं। राजनीति, वर्तमान दौर में जिस प्रकार से दूषित मानसकिता वालों के हाथ में खिसकती जा रही है। ऐसे में जरूरी है कि सच्चे आदर्शो वाले लोग आगे आएं। यह फ़िल्म युवाओं को जिम्मेदारी लेने के लिए प्रेरित करेगी। हम उम्मीद करते हैं कि भविष्य में भी ऐसी फिल्में बनती रहेंगी।

वहीं, लघु फ़िल्म के निर्माता- निर्देशक रवीन्द्र चौहान ने फ़िल्म की जानकारी साझा करते हुए बताया कि हमारा प्रोडक्शन हाउस हमेशा सामाजिक मुद्दों पर सार्थक सिनेमा बनाने के लिये प्रयासरत है। लघु फ़िल्म रामराज्य की कहानी, पटकथा व संवाद टीवी सीरियल की लेखिका कविता गाँधी ने लिखे हैं, जबकि निर्देशन व संपादन आयुष आनन्द ने किया है।

शूटिंग प्रयागराज एवं इटावा के विभिन्न क्षेत्रों में हुई है। फ़िल्म ग्राम पंचायत व प्रधान चुनाव के समर की कहानी है जिसमें चुनाव जीतने के राजनीतिक चक्रव्यूह को दिखाया गया है। फरेब, झूठ और सच के प्रभोलन की संरचना व जीत- हार की कहानी रामराज्य में प्रदर्शित की गई है।

रामराज्य के एसोसिएट प्रोड्यूसर रंजीत यादव, ध्रुव पुरवार, राहुल तोमर, मुनीमचन्द्र है एवं एग्जेक्युटिव प्रोड्यूसर कल्पना रघुवंशी, शीलेंद्र प्रताप सिंह है, लाइन प्रोड्यूसर संजीव यादव, सतीश कुमार है। कॉस्ट्यूम डिज़ाइनर नमिता तिवारी है। फ़िल्म का कॉन्सेप्ट रवीन्द्र चौहान ने तैयार किया है।

सिनेमाटोग्राफी राहुल वर्मा, वीएफएक्स शिखर श्रीवास्तव और बैकग्राउण्ड म्यूजिक प्रियम ने तैयार किया है। फ़िल्म में अभिनय शिवराम उपाध्याय, रवीन्द्र चौहान, सुशील आर्या, उपासना सिंह, प्रियम ने किया है। डिजिटल रिलीज़ पर दिग्विजय सिंह, हिमांशु सैनी, सीटू, सौरभ, रवि रतन उपस्थित रहे।

Leave A Reply