पिछले 24 घंटे में रिकार्ड 3150 मरीजों ने कोरोना को दी मात, 1262 नए मरीज मिले

पहले फेज के मतदान से पहले कोरोना के मामले काफी हो सकते है

नोएडा: एनसीआर में कोरोना के मामले घट रहे है। नोएडा में मंगलवार को कोरोना के 1262 केस मिले। एनसीआर के अन्य शहरों के मुकाबले नोएडा में कोरोना के केस अब भी ज्यादा है। रिकवरी रेट ज्यादा है। यहा अब 24 घंटे में 3150 मरीज ठीक हुए। विश्लेष्कों का कहना है रिकवरी रेट बढऩे का संकेत अच्छे है। माना जा रहा है कि पहले फेज के मतदान से पहले कोरोना के मामले काफी हो सकते है।
नोएडा में पिछले एक सप्ताह में कोरोना से स्वस्थ होने वाले लोगों की संख्या तेजी से बढ़ी है। 11 जनवरी को जहां 124 मरीज स्वस्थ हुए थे। वही, मंगलवार को रिकार्ड 3150 मरीज कोरोना से स्वस्थ हुए हैं। स्वस्थ होने वाले में 99 फीसद मरीज होम आइसोलेशन में थे। एक सप्ताह की मियाद पूरी होने के बाद सभी को स्वस्थ घोषित कर दिया गया है। जिले में संक्रमण दर अब 22 प्रतिशत से नीचे पहुंच गई है। यहा 5897 कोरोना संदिग्धों की जांच की गई। जहां आरटी-पीसीआर जांच में 1227 मरीज वहीं एंटीजन जांच में 35 मरीज मिले हैं। गाजियाबाद में भी रिकवरी दर बढ़ी है यहा भी ठीक होने वालों का आकड़ा दो हजार के पार है।
नोएडा में 12,159 संक्रमित होम आइसोलेशन
डिप्टी सर्विलांस अधिकारी डा मनोज कुशवाहा ने सक्रिय मरीजों की संख्या 10,484 है। इसमे करीब 90 प्रतिशत से ज्यादा संक्रमित होम आइसोलेशन में हैं। जबकि 188 संक्रमितों का इलाज सरकारी व निजी अस्पतालों में चल रहा है। नोएडा कोविड अस्पताल के क्रिटिकल केयर डाक्टर डा तृतीया सक्सेना का कहना है कि अस्पताल में 26 मरीजों का इलाज चल रहा है। इनमें चार मरीज आईसीयू में हैं। तीन नए मरीज भर्ती किए गए हैं। सुपर स्पेशियलिटी शिशु अस्पताल में 12 किशोर और बच्चों का इलाज चल रहा है। ये मरीज अस्पताल में किसी दूसरी बीमारी के इलाज के लिए आए थे, लेकिन उन्हें भर्ती करने से पहले कोरोना संक्रमण की जांच की गई, जिसमें वे पॉजिटिव निकले। यहां आईसीयू की सुविधा भी है। आपात स्थितियों में अस्पताल को 200 बेड तक बढ़ाया जा सकता है।

Comments are closed.